व्यक्तित्व

सुर साम्राज्ञी का जन्मदिन, बरकरार है स्वर कोकिला का जादू

Posted by Divyansh Joshi on



आज सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर का जन्मदिन है। अपनी मधुर आवाज से पिछले कई दशक से संगीत के खजाने में नये मोती भरने वाली लता मंगेशकर के 89वें जन्मदिन पर जानते है उनसे जुडी कुछ रोचक बातें
वैसे तो लता मंगेशकर का नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं है । उनका का जन्म 28 सितम्बर 1929 को हुआ था , लता पंडित दीनानाथ मंगेशकर की बड़ी बेटी हैं । लता मंगेशकर मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में जन्मीं थी , लेकिन उनकी परवरिश महाराष्ट्र में हुई थी . महज़ पांच साल की उम्र से रंगमंच अभिनय करने वाली लता का पहला नाम 'हेमा' था, मगर जन्म के पांच साल बाद माता-पिता ने उनका नाम 'लता' रख दिया था
भारतरत्न से सम्मानित स्वर-कोकिला लता मंगेशकर की गिनती अनमोल गायिकाओं में है. संगीत की मलिका कहलाने वाली लता मंगेशकर को कई उपाधियों से नवाजा जा चुका है. लता मंगेशकर को फिल्म फेयर पुरस्कार , राष्ट्रीय पुरस्कार , पद्म भूषण , पद्म विभूषण , दादा साहब फाल्के पुरस्कार , राजीव गान्धी पुरस्कार और दुनिया में सबसे अधिक गीत गाने का गिनीज़ बुक रिकॉर्ड मिल चूका है ... वही लता के नाम 20 से ज्यादा भाषाओं में 30 हजार से ज्यादा सॉन्ग्स गाने का रिकॉर्ड भी दर्ज़ है। इतना ही नहीं लता ही एकमात्र ऐसी जीवित शख्सियत हैं, जिनके नाम पर पुरस्कार दिए जाते हैं ...
लता मंगेशकर ने कभी स्कूली पढ़ाई नहीं की. बावजूद इसके उन्हें 6 अलग-अलग विश्वविद्यालयों ने डॉक्टरेट की उपाधि दी थी....