प्राइम टाइम

प्राइम टाईम - दिग्गज नेताओं के भरोसे मध्यप्रदेश चुनाव

Posted by Divyansh Joshi on



मध्यप्रदेश का चुनावी महाभारत रोचक मोड़ पर पहुंच गया है । मध्य प्रदेश के सियासी रण में अब दिग्गज नेताओं का जमावड़ा लग रहा हैद्य सभी राष्ट्रीय पार्टियों का पूरा फोकस इस समय मध्य प्रदेश पर हैद्य क्यूंकि विधानसभा चुनाव की जीत ही लोकसभा का रास्ता तय करेगीद्य जिसके चलते बीजेपी और कांग्रेस के बड़े दिग्गज मैदान में कूद चुके हैंद्य कल गुरुवार को स्मृति इरानी ने कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ को महिलाओं पर दिए गए बयान को लेकर निशाना साधा था तो आज शहडोल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि शिवराज ने जो 15 साल में किया, वह कांग्रेस 55 सालों में भी नही कर पाई । भाजपा के लिए सौभाग्य की बात है ऐसी जगह जहां पर सर्वाधिक आदिवासी है वहां पर भाजपा सरकार है ।महाराष्ट्र ,गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड सारे क्षेत्र जहां सर्वाधिक आदिवासी रहते है। सभी राज्यों में भाजपा को सेवा का मौका दिया गया है।
वहीं आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सागर जिले की देवरी की जनसभा में बेरोजगारी और भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया। राहुल ने कहा कि भाजपा शासित किसी भी राज्य में जाकर युवाओं से पूछो कि क्या करते हो तो वह हाथ हिलाकर कहते हैं कि कुछ नहीं करते। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बेरोजगारी के हालात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 700 चपरासी के पदों के लिए तीन लाख युवा आवेदन करते हैं। राहुल ने 10 दिन में किसानों का कर्ज माफ करने की बात भी कही।
इस चुनावी भंवर में भाजपा औऱ कांग्रेस ही मुख्य राजनीतिक पार्टी बनकर उभर रही है जिनके बीच मुख्य मुकाबला होना है इसलिए अब स्टार प्रचारकों या यू कहें बड़े और दिग्गज नेताओं से चुनाव प्रचार करवाया जा रहा है । अब देखना होगा कि उंट किस करवट बैठता है ।