राज्य

प्रदेश एक्सप्रेस - सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की तीसरे दौर की बैठक होने जा रही है

Posted by Divyansh Joshi on



1
मध्य प्रदेश विधानसभाव चुनाव के लिए अब लगभग एक माह का समय बचा है, 28 नवंबर को प्रत्याशियों का भविष्य तय होगाद्य सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की तीसरे दौर की बैठक होने जा रही है, जिसमे शेष बची हुई लगभग 150 सीटों पर मंथन करेगीद्य इस बैठक में मालवा-निमाड़ की करीब 50 सीटों पर उम्मीदवारों के तैयार पैनल पर मंथन होगा। इस दौरान कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के सर्वे के साथ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और निजी एजेंसियों द्वारा कराए गए सर्वे पर विचार किया जाएगा। इस बैठक में स्क्रीनिंग कमेटी ने पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव को भी बुलाया है।
2
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के 40 दिन 40 सवाल का आज तीसरा दिन है। पहले दिन कमलनाथ ने शिवराज सरकार को स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर घेरा था और दूसरे दिन घोषणाओं और उनकी जमीनी हकीकत को लेकर सवाल उठाए थे।लेकिन आज कमलनाथ ने सवालों को तीसरे दिन महिला सुरक्षा को लेकर घेराव किया है। तीसरे दिन कमलनाथ ने शिवराज पर एक के बाद एक कई सवाल दागे है। नाथ ने पूछा है कि मामा मुखौटा लगाकर वोट क्यों लिया?.. माँ-बहन-बेटियों का जीवन अंधकार से क्यों भर दिया ?...मध्यप्रदेश को श्अंधेरगर्दी-चौपट राज श् में क्यों बदल दिया ? सवालों में कमलनाथ ने महिला अत्याचार, बलात्कार,छेड़छाड़, अपहरण जैसे घटनाओं का आंकड़ों के साथ जिक्र किया है।
3
रविवार को भाजपा ने समृद्ध मध्य प्रदेश अभियान की शुरुआत की। इस अभियान के तहत 50 रथ भोपाल से निकलकर प्रदेश के सभी जिलों में सरकार की योजनाओं का प्रचार प्रसार करेंगे। लेकिन अभियान के शुरू होने के साथ ही एक नई बहस ने भी जन्म ले लिया है। बीजेपी कार्यलय में अभियान की शुरूआत के साथ मंच पर भाजपा के सभी वरिष्ठ नेताओं की तस्वीर लगाई गई, लेकिन इनमें पूर्व प्रधानमंत्री और भाजपा के संस्थपक सदस्य रहे अटल बिहारी वाजपेयी जी की तस्वीर नदारत रही।
4
अभी तक देश में एट्रोसिटी को लेकर विवाद, प्रदर्शन और हिंसा हो रही थी , लेकिन अब ये एक्ट आत्महत्या का कारण बनता जा रहा है। लोग डर के मारे अपनी जान देने को मजबूर हो रहे है। ताजा मामला विदिशा से सामने आया है।ध्यहां एट्रोसिटी के काले कानून के डर से एक युवक ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। घटना कोतवाली थानान्तर्गत ग्राम गजार मूंदरा की है। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है।बता दे कि संभवतरू यह प्रदेश का पहला मामला है।
5
भारतीय जनता पार्टी की सरकार पिछले 15 साल से प्रदेश में है, लेकिन सरकार ने एक बार भी सिंधियों के पास पहुंचकर उनका हालचाल जानना उचित न समझा। यह आरोप रविवार को शिवाजी नगर स्थित सिंधु भवन में सिंधी सेंट्रल पंचायत के अध्यक्ष भगवानदेव ईसरानी ने लगाया। वे समाज के महासम्मेलन में पूरे प्रदेश से आए सिंधी समाज के लोगों को संबोधित करते हुए बोल रहे थे।