राज्य

सरताज सिंह ने भाजपा छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया

Posted by khalid on



1
मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपनी पांचवी सूची जारी कर दी है। इस सूची में 17 सीटों को शामिल किया गया है | सूची में होशंगाबाद से सरताज सिंह का नाम शामिल है । उन्होंने भाजपा छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया है | इस लिस्ट में 15 प्रत्याशी घोषित किए गए हैं ।
2
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने गुरुवार को तीसरी सूची जारी कर दी । इसमें 32 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया गया । इंदौर-3 से कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश को , घट्टिया सीट से प्रेम चंद गुड्डू के बेटे अजीत बोरासी और भोपाल की गोविंदपुरा सीट से पूर्व मुख्यमंत्री बाबूल लाल गौर की बहू कृष्णा गौर को टिकट दिया गया है। भाजपा अब तक 224 प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर चुकी है । बता दे कि कल नामांकन का आखिरी दिन है। बाकि के नामो कि घोषणा आज शाम तक हो सकती है .
3
गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी ने आगामी विधानसभा चुनाव के लिए अपनी तीसरी सूची जारी कर दी है .. जिस गोविंदपुरा सीट को लेकर अब तक सस्पेंस बना हुआ था उसको लेकर भी इस सूची में सब कुछ साफ़ हो गया है .. भोपाल की गोविंदपुरा सीट से पूर्व मुख्यमंत्री बाबूल लाल गौर की बहू कृष्णा गौर को टिकट दिया गया है .. वही आज भाजपा कार्यलय में बाबूलाल गौर ने पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओ का आभार व्यक्त किया .. साथ ही बाबूलाल गौर को पार्टी कि तरफ से स्टार प्रचारक घोषित किया गया है जिसको लेकर उनका कहना है कि सिर्फ गोविंदपुरा में ही नहीं बल्कि पुरे प्रदेश में प्रचार करेंगे ..
4
गुरुवार को बीजेपी ने अपनी तीसरी सूची जारी की जिसमे 32 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया गया .. साथं ही अब तक सस्पेंस में रही गोविंदपुरा विधानसभा से कृष्णा गौर को टिकट मिलने पर जहा एक तरफ बाबूलाल गौर ने पार्टी का आभार व्यक्त किया तो वही दूसरी ओर पार्टी में वंशवाद को लेकर विरोध की स्तिथि भी देखने को मिल रही है .. आज भाजपा कार्यलय के बहार पार्टी के कार्यकर्ताओ ने हंगामा किया .. कार्यकर्ताओ ने कृष्णा गौर को गोविंदपुरा से टिकट मिलने का विरोध करते हुए पार्टी पर वंशवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है ..
5
भाजपा से टिकट नहीं मिलने से नाराज वरिष्ठ नेता सरताज सिंह गुरुवार को कांग्रेस में शामिल हो गए । उनके इस फैसले के कुछ देर बात ही कांग्रेस ने अपनी पांचवीं सूची में उन्हें होशंगाबाद सीट से टिकट देने का ऐलान किया । इससे पहले वे अपने क्षेत्र सिवनी-मालवा पहुंचे और समर्थकों से मिले । इस दौरान सरताज भावुक हो गए । 78 साल के सरताज ने कहा- "मैं घर में बैठकर घुट-घुटकर मरने वालों में से नहीं हूं । लडूंगा तो मैदान में, मरूंगा तो मैदान-ए-जंग में ।"
6
छतरपुर जिले में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी के बेटे नितिन चतुर्वेदी ने कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने से बगावत कर दी। गुरूवार को उन्होंने समाजवादी पार्टी से अपना नामांकन राजनगर विधानसभा सीट से दाखिल किया है। इस दौरान उनके साथ पिता सत्यव्रत भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने टिकट नहीं देकर बड़ी गलती की है।