राज्य

प्रदेश की खबरें-मानसून सत्र के बाद भाजपा अब जनता के बीच जाने की तैयारी में

Posted by khalid on




1 विधानसभा के मानसून सत्र के बाद भाजपा अब जनता के बीच जाने की तैयारी में है। इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक बार फिर भाजपा विधायक दल की बैठक बुलाई है। चार दिन के भीतर दूसरी बार हो रही बैठक 27 जून को शाम साढ़े सात बजे से मुख्यमंत्री निवास पर होगी। बैठक में तय होगा कि विपक्ष के आरोपों का जवाब कैसे दिया जाएगा। यानी भाजपा अब कांग्रेस के अविश्वास प्रस्ताव का जवाब जनता के बीच जाकर देगी।

2 मप्र सरकार के विकास पर्व के शुभारंभ अवसर पर 23 जून को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इंदौर से 4700 करोड़ से अधिक के विकास कार्यों का ई-लोकार्पण किया। इसी तर्ज पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अब प्रदेश भर में 5000 हजार करोड़ से अधिक के निर्माण कार्यों की आधारशिला रखने जा रहे हैं। इसके लिए आगामी 7 जुलाई को प्रदेश की सभी 378 निकायों में श्निकाय विकास पर्वश् का आयोजन होगा। इस दिन सभी निकायों में शिलान्यास कार्यक्रम होंगे।

3 आर्थिक समस्याओं और गड़बड़ी के चलते प्रदेश के 46 आईएसएस और आईपीएस अधिकारी लोकायुक्त और ईओडब्ल्यू की जांच के घेरे में आ गए है। इसमें तीन राज्य प्रशासनिक सेवा के वो अधिकारी शामिल है, जिन्हें शिकायत पंजीकृत होने के बावजूद आईएएस अवार्ड से सम्मानित किया गया है। वही 29 ऐसे अधिकारी है जिन्हें लोकायुक्त ने जांच के बाद क्लीनचिट दी है।

4 प्रदेश के सरकारी कॉलेजों में सेवारत अतिथि विद्वानों को अब हर महीने 30 हजार रुपए वेतन मिलेगा। हालांकि यह वेतन उन्हें प्रतिदिन 7 घंटे महाविद्यालय में बिताने और प्राचार्य द्वारा सौंपे गए समस्त शैक्षणिक और गैर-शैक्षणिक कार्य का संताषजनक जवाब मिलने पर दिया जाएगा। इसके आदेश बुधवार को उच्च शिक्षा विभाग के अपर सचिव वीरन सिह भलावी ने जारी कर दिए है।

5 राजधानी की सात विधानसभा क्षेत्रों में 2272 मतदान केन्द्रों पर बीएलओ नियुक्त किए गए हैं। जिन्होंने विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण-2018 के अंतर्गत डोर टू डोर सर्वे का कार्य किया है। अब तक 85 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। जिसे 30 जून तक पूरा कर लिया जाएगा। यह कहना है उप जिला निर्वाचन अधिकारी व एडीएम जीपी माली का।