राज्य

MP NEWS: शिवराज के मंत्री ने जनता से मांगी माफी

Posted by khalid on



शिवराज के मंत्री ने जनता से मांगी माफी

प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के मास्क नहीं लगाने के सवाल पर अब सुर बदल गए हैं। मंत्री के मास्क नहीं पहनने पर लोगों ने सोशल मीडिया पर जमकर नाराजगी जताई। कई लोगों ने उनके खिलाफ जुर्माना तक लगाए जाने की मांग कर डाली। इसके बाद मंत्री ने सफाई में कहा कि मुझे सांस लेने में तकलीफ होती है, इसलिए मास्क नहीं पहनता हूं। गुरुवार सुबह उनके तेवर और नरम हो गए। उन्होंने बयान जारी कर कहा कि मैं इसके लिए माफी मांगता हूं।

पू्र्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार ने हमेशा किसानों के साथ विश्वासघात किया है। किसानों के परिश्रम से लगातार उत्पादन में बढ़ोतरी हुई, लेकिन भाजपा सरकार ने किसानों को उनकी उपज का उचित दाम दिलाने की व्यवस्था नहीं की। केंद्र सरकार का समर्थन मूल्य घोषित करना भी औपचारिकता मात्र रह गया है।

शिवराज सरकार (Shivraj Government) अपनी ही बात से पलट गयी है. विधान सभा में अपने ही कृषि मंत्री की ओर से दी गयी जानकारी को भी वो अब गलत बता रही है. मामला किसान कर्ज़माफी का है. दो दिन पहले 21 सितंबर को कृषि मंत्री कमल पटेल ने विधानसभा में जानकारी दी थी कि कमलनाथ सरकार (kamalnath government) ने किसानों का कर्ज़ माफ किया. लेकिन अब शिवराज सरकार के दूसरे मंत्री भूपेन्द्र सिंह का कहना है कि विधानसभा में गलत जानकारी दी गयी. हम ने इसकी जांच का आदेश दे दिया है.

प्रदेश में किसान कर्ज माफी के मुद्दे पर छिड़ी सियासत के बीच विधानसभा में कृषि मंत्री कमल पटेल के लिखित जवाब को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि जो कहा, सो किया.भाजपा- सिर्फ झूठे वादे. किसान कर्ज माफी के मुद्दे को लेकर बीजेपी के निशाने पर सिर्फ कमलनाथ ही नहीं बल्कि कर्ज माफी का ऐलान करने वाले तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी रहे हैं. अब विधानसभा में शिवराज सरकार के कर्ज माफी स्वीकारने के बाद कांग्रेस आक्रामक और बीजेपी बैकफुट पर आ गई है. यही कारण है कि बीजेपी नेताओं के आरोपों का जवाब अब राहुल गांधी ने दिया है.

प्रदेश (MP) में होने जा रहे विधान सभा उपचुनाव में कांग्रेस की स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) होंगी. वो नवरात्रि में मध्य प्रदेश आएंगी और कई सीटों के लिए प्रचार करेंगी. उनके दौरे की शुरुआत दतिया (Datia) से होगी. वो पीतांबरा पीठ में पूजा के बाद चुनावी दौरा शुरू करेंगी.

विदाई के पहले मानसून की गतिविधियां प्रदेश में फिर सक्रिय हो गई हैं। बुधवार को अनेक स्थानों पर वर्षा दर्ज की गई। मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को भी कई स्थानों पर बारिश की संभावना है। सागर, ग्वालियर, रीवा, छतरपुर, पन्ना, सतना आदि स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि पूर्वी मध्यप्रदेश के उत्तरी भाग में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। पहले यह सिस्टम पश्चिमी मप्र में बना हैं, जो घूम गया है। आमतौर पर इस तरह की स्थिति बहुत कम बनती है। सिस्टम घूमकर अब पूर्वी मप्र की ओर आ गया है। इसके कारण उत्तर प्रदेश से सटे जिलों में गुरुवार को तेज बारिश की संभावना बन सकती है। बारिश के कारण सोयाबीन की फसल को नुकसान हुआ है तो धान के फसल के लिए ये बारिश फायदेमंद है।

प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के मास्क नहीं लगाने के सवाल पर अब सुर बदल गए हैं। मंत्री के मास्क नहीं पहनने पर लोगों ने सोशल मीडिया पर जमकर नाराजगी जताई। कई लोगों ने उनके खिलाफ जुर्माना तक लगाए जाने की मांग कर डाली। इसके बाद मंत्री ने सफाई में कहा कि मुझे सांस लेने में तकलीफ होती है, इसलिए मास्क नहीं पहनता हूं। गुरुवार सुबह उनके तेवर और नरम हो गए। उन्होंने बयान जारी कर कहा कि मैं इसके लिए माफी मांगता हूं।

पू्र्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार ने हमेशा किसानों के साथ विश्वासघात किया है। किसानों के परिश्रम से लगातार उत्पादन में बढ़ोतरी हुई, लेकिन भाजपा सरकार ने किसानों को उनकी उपज का उचित दाम दिलाने की व्यवस्था नहीं की। केंद्र सरकार का समर्थन मूल्य घोषित करना भी औपचारिकता मात्र रह गया है।

शिवराज सरकार (Shivraj Government) अपनी ही बात से पलट गयी है. विधान सभा में अपने ही कृषि मंत्री की ओर से दी गयी जानकारी को भी वो अब गलत बता रही है. मामला किसान कर्ज़माफी का है. दो दिन पहले 21 सितंबर को कृषि मंत्री कमल पटेल ने विधानसभा में जानकारी दी थी कि कमलनाथ सरकार (kamalnath government) ने किसानों का कर्ज़ माफ किया. लेकिन अब शिवराज सरकार के दूसरे मंत्री भूपेन्द्र सिंह का कहना है कि विधानसभा में गलत जानकारी दी गयी. हम ने इसकी जांच का आदेश दे दिया है.

प्रदेश में किसान कर्ज माफी के मुद्दे पर छिड़ी सियासत के बीच विधानसभा में कृषि मंत्री कमल पटेल के लिखित जवाब को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि जो कहा, सो किया.भाजपा- सिर्फ झूठे वादे. किसान कर्ज माफी के मुद्दे को लेकर बीजेपी के निशाने पर सिर्फ कमलनाथ ही नहीं बल्कि कर्ज माफी का ऐलान करने वाले तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी रहे हैं. अब विधानसभा में शिवराज सरकार के कर्ज माफी स्वीकारने के बाद कांग्रेस आक्रामक और बीजेपी बैकफुट पर आ गई है. यही कारण है कि बीजेपी नेताओं के आरोपों का जवाब अब राहुल गांधी ने दिया है.

प्रदेश (MP) में होने जा रहे विधान सभा उपचुनाव में कांग्रेस की स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) होंगी. वो नवरात्रि में मध्य प्रदेश आएंगी और कई सीटों के लिए प्रचार करेंगी. उनके दौरे की शुरुआत दतिया (Datia) से होगी. वो पीतांबरा पीठ में पूजा के बाद चुनावी दौरा शुरू करेंगी.

विदाई के पहले मानसून की गतिविधियां प्रदेश में फिर सक्रिय हो गई हैं। बुधवार को अनेक स्थानों पर वर्षा दर्ज की गई। मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को भी कई स्थानों पर बारिश की संभावना है। सागर, ग्वालियर, रीवा, छतरपुर, पन्ना, सतना आदि स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि पूर्वी मध्यप्रदेश के उत्तरी भाग में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। पहले यह सिस्टम पश्चिमी मप्र में बना हैं, जो घूम गया है। आमतौर पर इस तरह की स्थिति बहुत कम बनती है। सिस्टम घूमकर अब पूर्वी मप्र की ओर आ गया है। इसके कारण उत्तर प्रदेश से सटे जिलों में गुरुवार को तेज बारिश की संभावना बन सकती है। बारिश के कारण सोयाबीन की फसल को नुकसान हुआ है तो धान के फसल के लिए ये बारिश फायदेमंद है।

कांग्रेस विधायक सुनीता पटेल बीते 3 दिन से विधायक विश्राम गृह में धरने पर बैठीं हैं, सुनीता पटेल गाडरवारा से कांग्रेस की विधायक हैं, विधायक सुनीता पटेल ने कहा है कि आम पब्लिक की सुनवाई इस सरकार में कैसे होगी? जब एक जनप्रतिनिधि के धरना देने के बाद भी सुनवाई नहीं हो रही है। सुनीत पटेल ने कहा कि इतना भ्रष्टाचार होने के बाद भी अधिकारी को क्यों रखना चाहते हैं? नरसिंहपुर एडिशनल एसपी राजेश तिवारी सोने का अंडा देने वाली मुर्गी है, इतनी सारी जांच के बावजूद भी राजेश तिवारी को किस लिए रखना चाहते हैं, उन्होने कहा कि जब तक मुझे कोई जवाब नहीं मिलता है तब तक धरना जारी रहेगा।

राजधानी भोपाल में में बुधवार को 313 संक्रमित मिले। इससे पहले 19 सितंबर को 307 मरीज मिले थे। अब शहर के लगभग हर क्षेत्र में एक्टिव केस हैं, लेकिन कोलार थाना क्षेत्र सबसे बड़ा हॉट स्पॉट बन गया है। यहां सर्वाधिक 235 एक्टिव केस हैं। वहीं प्रदेश में 2346 नए संक्रमित मिलने के साथ ही एक्टिव केस 22812 हो गए हैं। हालांकि बुधवार को संक्रमण दर 10.1% रही, जो मंगलवार के मुकाबले 6% कम है।

नवंबर में संभावित प्रदेश की 28 विधानसभा सीटाें के उपचुनावाें काे पारदर्शी बनाने के लिए चुनाव आयाेग ने नई व्यवस्था तय की है। इसके मुताबिक काेई भी काेविड पेशेंट यदि बैलेट पेपर से मतदान करना चाहता है ताे इनके मतदान आवेदन नामांकन के पांच दिन बाद तक लिए जाएंगे। उन्हें यह आवेदन रिटर्निंग ऑफिसर काे करना हाेगा। इसके साथ जहां मरीज का इलाज चल रहा है, वहां के डाॅक्टर का प्रमाण पत्र लगेगा।

नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) ने पोषण आहार मामले में बड़ी गड़बड़ी पकड़ी है। कैग ने बताया कि मई 2014 से दिसंबर 2016 के बीच भोपाल, रायसेन के परियोजना अधिकारियों ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं की करीब 3.19 करोड़ रु. की मानदेय राशि डाटा एंट्री व कंप्यूटर ऑपरेटरों सहित अन्य 89 बैंक खातों में जमा करा दी। भोपाल की एक पीओ सुधा विमल मोतियापार्क में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के रूप में दर्ज थीं। उनके खाते में बैरसिया के कई, बरखेड़ी, चांदबड़, गोविंदपुरा के एक-दो और रायसेन के उदयपुरा के परियोजना अधिकारियों का पैसा जमा था।

नए मॉडल मंडी एक्ट के विरोध में गुरुवार से प्रदेश की 272 मंडियों के 90 हजार से अधिक व्यापारी हड़ताल पर रहेंगे। इसके चलते किसी भी उपज की नीलामी नहीं हाेेगी। कराेद्र मंडी में सिर्फ फल और सब्जी नीलाम हाेगी। व्यापारी मंडी टैक्स को 1.70 से घटाकर 0.50 फीसदी करने की मांग कर रहे हैं। उनके मुताबिक नए एक्ट में बड़ी कंपनियाें काे मंडी के बाहर सीधे किसानाें से उपज खरीदने के अधिकार दे दिए गए हैं। इस व्यवस्था से मंडियों में कारोबार खत्म हो जाएगा।

मध्य प्रदेश में आगामी 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव को देखते हुए भाजपा सरकार लगातार बड़ी घोषणाएं कर रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को प्रदेश में खाली पदों पर जल्द भर्ती शुरू करने के निर्देश दिए। राज्य में अलग-अलग विभागों में करीब 30 हजार पद खाली पड़े हैं। इस संबंध में मुख्यमंत्री ने गृह, राजस्व, जेल, लोक निर्माण, शिक्षा, स्वास्थ्य और अन्य विभागों के अफसरों को दिए निर्देश में कहा कि खाली पदों को भरने की प्रक्रिया जल्द शुरू की जाए।

मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार के दौरान 26 लाख 95 हजार किसानों का कर्ज माफ हुआ। विधानसभा के एक दिन के सत्र में कृषि मंत्री कमल पटेल ने कर्ज माफ होने की बात मानी। इस पर अब शिवराज सरकार घिर गई है। अब राहुल गांधी भी इसमें कूद गए हैं। उन्होंने कर्ज माफ करने की एक खबर लेकर ट्वीट करते हुए कहा- कांग्रेस ने जो कहा, सो किया। भाजपा सिर्फ़ झूठे वादे।

पू्र्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार ने हमेशा किसानों के साथ विश्वासघात किया है। किसानों के परिश्रम से लगातार उत्पादन में बढ़ोतरी हुई, लेकिन भाजपा सरकार ने किसानों को उनकी उपज का उचित दाम दिलाने की व्यवस्था नहीं की। केंद्र सरकार का समर्थन मूल्य घोषित करना भी औपचारिकता मात्र रह गया है।

उपचुनाव से पहले मध्य प्रदेश की सियासत में आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेज हो गया है। शिवराज सरकार में मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने पूर्व मुख्‍यमंत्री कमलनाथ को लेकर बड़ा बयान दिया है। मंत्री तोमर का कहना है कि कमलनाथ के 15 महीने का लेखा जोखा खोल दिया गया तो वो जेल में होंगे। बुधवार को ग्वालियर में मीडिया से बातचीत में चर्चा में मंत्री तोमर ने पूर्व सीएम कमलनाथ पर जमकर हमला बोला।

भोपाल सहित मध्य प्रदेश के सभी आरटीओ में ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) बनवाने की व्यवस्था बदल गई है। अब परिवहन विभाग की वेबसाइट पर लर्निंग व परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने का समय एक घंटे बढ़ा दिया गया है। इसे लेकर परिवहन आयुक्त मुकेश कुमार जैन ने हाल ही में भोपाल सहित प्रदेश के सभी क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी (आरटीओ) और जिला परिवहन अधिकारी (डीटीओ) को निर्देश दिए थे, जिसके बाद नई व्यवस्था के तहत सुबह साढ़े 9 बजे से संबंधित क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय में लाइसेंस बनवाने का स्लॉट दिया जाने लगा है।

कोरोना से जूझते छह माह हो गए हैं। 24 मार्च को शहर में कोरोना का पहला मरीज मिला था। इस दौरान पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 21 हजार के करीब पहुंच गया और कोरोना से मौतों की संख्या 500 पार हो गई। लॉकडाउन के 69 दिन बाद शहर एक जून को खुला, लेकिन आज भी पूरी तरह पटरी पर नहीं लौट सका है। बीते छह माह भयानक स्वप्न से कम नहीं रहे। पहले माह में जहां मात्र 1029 पॉजिटिव मरीज मिले थे, वहीं छठे माह में साढ़े नौ हजार मरीज मिले।