राज्य

उत्‍तराखण्‍ड लाइव 08-05-21

Posted by khalid on






1
दून में कोरोना नियंत्रण और हर जरूरतमंद को उपचार उपलब्ध कराने के दावों की हवा निकल रही है। सच्चाई यह है कि पिछले तीन दिनों में 250 से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। इस दौरान करीब 10 हजार लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई।राजधानी देहरादून कोरोना का हॉटस्पॉट बन गया है। लगातार बढ़ रही मौत और संक्रमितों के संख्या के चलते दून देश के टॉप-10 संक्रमित जिलों में शामिल हो गया है। दून ने श्रीनगर, चंडीगढ़, गुवाहाटी को भी पछाड़ दिया है। इस सूची में गुरुग्राम, हरियाणा पहले और कोलकाता छठवें स्थान पर है।
2
ऊधमसिंह नगर जिले स्वास्थ्य विभाग के एडीटीओ हरेंद्र मलिक द्वारा जिले के पत्रकारों द्वारा लिखी गई खबर पर आपत्ति जनक टिप्पणी करने के विरोध मे श्रमजीवी पत्रकार यूनियन की किच्छा इकाई ने इकाई ने शहर के डीडी चैक पर कोविड 19 की गाईडलाईन का पालन करते हुए स्वास्थ्य विभाग के एडीटीओ हरेंद्र मलिक के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला दहन किया।
3
पौड़ी नगर के आकाशवाणी केंद्र के समीप स्थित पी डब्ल्यू डी बारात घर में संचालित कोविड- केयर सेंटर के ड्रेनेज सिस्टम ठीक ना होने पर मोहल्ले वालों ने नाराजगी जताते हुए जिला प्रशासन से समस्या निदान के लिए गुहार लगाई जिसको देखते हुए एसडीएम सदर श्याम सिंह राणा ने किया स्थलीय निरीक्षण किया
4
कोविड महामारी के चलते आक्सीजन की लगातार कमी महसूस की जा रही थी जिसके कारण रुड़की में भी कई लोग अकाल का ग्रास बन गये लेकिन अब जल्द ही रुड़की में विधायक निधि से मिनी आक्सीजन प्लांट लगेगा। प्लांट लगने से आक्सीजन का संकट शहर से दूर हो जायेगा। नगर विधायक प्रदीप बत्रा ने बताया कि विधायक निधि से 50 से 60 लाख की लागत से एक मिनी आक्सीजन प्लांट जल्द ही कैम्प कार्यालय में लगाया जायेगा। यह प्लांट अगले तीन सप्ताह में बन कर तैयार हो जायेगा जिस पर निःशुल्क आक्सीजन उपलब्ध होगी तथा आक्सीजन का संकट दूर होगा।
5
चंपावत जिले में पुलिस महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है यहां खेतीखान क्षेत्र के गंभीर गांव में पुत्र के बाद पिता की मृत्यु कोरोना से हो गई थी । मृतक बुजुर्ग घर में आइसोलेशन में ही रह रहे थे जहां ग्रामीण और अन्य परिजन शव का अंतिम संस्कार करने में डर रहे थे वहीं पुलिस विभाग ने गंभीर गांव में पहुंच कर शव को स्ट्रेचर में घर से मुख्य सड़क तक लाया गया तथा उसके बाद श्मशान घाट में उसका अंतिम संस्कार किया गया