क्षेत्रीय

Balaghat Live|Balaghat News-17-10-20

Posted by Avneesh Rai on



1.
बालाघाट के वारासिवनी क्षेत्र मैं स्थित कंचनपुर का जवान पेट्रोलिंग के दौरान शहीद हो गया उनके शहीद होने के बाद पार्थिव शरीर को देखने के लिए ग्राम में भारी भीड़ उमड़ी यहां तक की मध्यप्रदेश शासन के राज्य मंत्री रामकिशोर कावरे ने वारासिवनी तहसील के ग्राम कंचनपुर-सरंडीकंचनपुर-सरंडी पहुंच कर भारतीय सेना के जवान शुभम रहांगडाले को श्रृद्धांजलि दी और उनके परिवार के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की । मंत्री कावरे ने अपने शोक संदेश में कहा है कि युवा शहीद शुभम की शहादत को हम शत-शत नमन करते हैं। आपका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। इस दुखद घड़ी में हमारी संवेदनाएं परिवार के साथ हैं। मध्य प्रदेश सरकार शहीदों का सम्मान करती है, गौरतलब है कि जिले के वारासिवनी क्षेत्र के ग्राम कंचनपुर सरंडी के निवासी विनोद राहंगडाले जी के सुपुत्र शुभम राहंगडाले पंजाब के जालंधर में भारतीय सेना में पदस्थ थे। 16 अक्टूबर को देश की सुरक्षा में पेट्रोलिंग के दौरान वे वीरगति को प्राप्त हो गए है।

2.
बालाघाट जाता है कि जनता अपने क्षेत्र का विकास कराने के उद्देश्य से जनप्रतिनिधि चुनती है लेकिन यही जनप्रतिनिधि जनता के साथ विश्वासघात करने के लिए खरे उतरते है और क्षेत्र का विकास पांच सालों तक केवल उद्घाटन और भूमिपूजन में ही बिता देते है। जिसके चलते क्षेत्र का विकास शून्य रहता है। इसी तरह का एक जीता जागता उदाहरण वारासिवनी से कटंगी मार्ग पर देखने को मिला। इस मार्ग की हालत इतनी दयनीय हो चुकी है, जिसे देख कर यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस क्षेत्र के क्षेत्रीय विधायक के द्वारा अपने क्षेत्र के लिए किसी प्रकार का विकास कराने में असफल साबित हुये। वही वारासिवनी से ठेकेदार के द्वारा विगत वर्ष काम तो शुरू किया गया था लेकिन यह काम को इस साईड सडक़ के रूप में समाप्त कर दिया गया जबकि दोनो ओर सडक़ का कार्य किया जाना आवश्यक था जिसे ठेकेदार के द्वारा पुरा नही किया गया। सूत्रों की माने तो ठेकेदार और क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की साठगाठ से इस काम को आधा अधुरा किया गया था।


3.
बालाघाट रेल पथ अमान परिवर्तन का कार्य गोंदिया-जबलपुर रूट पर लामटा से समनापुर जो अब पुर्णता की ओर है । कोरोना संकट काल मे भी रेल पथ निर्माण कंम्पनी ने तेजी से कार्य करते हुऐ लामटा से समनापुर के बीच रेल पथ बिछाने के साथ साथ ही इलेक्टिक लॉईन के तार भी बिछा लिये है। नैनपुर -मंडला के बीच भी तेजी से कार्य पुर्णता की ओर है, जहा चिराईडोगरी से मंडला के बीच रेल पथ सह इलेक्टिक लॉईन बन कर तैयार हो गई है।इससे पहले ही नैनपुर से चिराईडोगरी व नैनपुर से लामटा रेल खंड का ईलेक्टिफिकेशन कार्य का रेल्वे ऑफ सेफ्टी के दुवॉर सी आर एस कर ओके रिपोर्ट भेज दी गई थी। वही आगामी 26 अक्टुंबर को लामटा से समनापुर व नैनपुर मंडला रेल खंड के चिराईडोगरी से मंडला गेज सह ईलेक्टिकलॉईन रेल पथ का सी आर एस एए रेल्वे ऑफ सेफ्टी ए के राय द्वारा किया जाऐगा ।

4
अपर कलेक्टर फ्रेंक लोबल ए ने तहसील कार्यालय किरनापुर का निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाओं को देखा। निरीक्षण के दौरान उन्होंने तहसील कोर्ट के प्रकरणों को देखा और पाया कि कोर्ट में धारा के आपराधिक प्रकरण कई दिनों से बिना कार्यवाही के लबित है। इस स्थिति पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की और लबित प्रकरणों को एक सप्ताह के भीतर निराकृत कर अवगत कराने के निर्देश दिये। इस मामले में उन्होंने संबंधित रीडर को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये।

5
परसवाड़ा क्षेत्र में जिला खाद्य अधिकारी एचएल चौधरी द्वारा समितियों को लेकर दिए गए भ्रष्टाचार के बयान पर कार्यवाही नहीं होने और जिले में 23 सहकारी समितियों को केंद्र नहीं बनाए जाने से नाराज मध्य प्रदेश राज्य सहकारी कर्मचारी संघ ने 16 अक्टूबर से काम बंद अनिश्चितकालीन हड़ताल किए जाने का निर्णय लिया जिसके तहत जिले की सभी 126 सहकारी समितियों के कर्मचारी 16 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन काम बंद हड़ताल कर आदिम जाति सेवा सहकारी केंद्रीय समिति मर्यादित शाखा परसवाङा के सम्मुख प्रांगण में बिते 2 दिनो से हङताल पर पर बैठे हुये है।

6
बहेला। बहेला पुलिस थाना अंतर्गत ग्राम कट्टीपार में सालेकसा निवासी एक युवक द्वारा अपनी ससुराल में पत्नी पर कुल्हाड़ी से हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया और बेटी को लेकर फरार हो गया। बहेला पुलिस ने मामला कायम कर जांच प्रारंभ कर दी है। 15 अक्टूबर को रात 09.00 बजे के लगभग आरोपी कृष्णा मरावी निवासी चांद सूरज थाना सालेकसा महाराष्ट्र ने अपनी पत्नी मृतिका महारिन पति कृष्णा मरावी 22 वर्ष निवासी चांद सूरज थाना सालेकसा महाराष्ट्र हाल मुकाम ग्राम कट्टीपार थाना बहेला को चेतीबाई के घर की छपरी में आपसी बहस के बाद कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या कर दी और बेटी को लेकर मौके से फरार हो गया।

7
बालाघाट जिले में 32 और मरीजों के सैंपल कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। शासन के प्रोटोकाल के अनुसार 37 मरीजों के ठीक हो जाने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। इस प्रकार बालाघाट जिले में अब तक कुल 1689 पर मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। इनमें से 1383 मरीज शासन के प्रोटोकॉल के अनुसार ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। 288 मरीजों का उपचार किया जा रहा है।पाजेटिव पाये गये 32 मरीजो में नगरीय क्षेत्र बालाघाट में १४ मरीज संक्रमित पाये गये है।