राज्य

उत्‍तराखण्‍ड लाइव 01-07-22

Posted by Admin on



धूमधाम से निकाली गई भगवान जगन्नाथ की शोभा यात्रा

पर्यटन नगरी मसूरी में भगवान जगन्नाथ की शोभायात्रा धूमधाम से निकाली गई श्री सनातन धर्म मंदिर से शोभायात्रा शुरू होकर पिक्चर पैलेस गांधी चौक पहुंची शोभायात्रा के साथ सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे इस दौरान शोभायात्रा का जगह-जगह स्वागत किया गया हरे रामा हरे कृष्णा की जयकारों के साथ पर्यटन नगरी भक्तिमय हो गई यात्रा में भगवान जगन्नाथ मंदिर के उड़ीसा से आए श्रद्धालुओं ने शोभा यात्रा के दौरान भजन कीर्तन से वहां मौजूद श्रद्धालुओं को थिरकने पर विवश कर दिया


चारधाम यात्रा को लेकर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने चारधाम यात्री से अपील की है मौसम का हाल जान्ने के बाद ही यात्रा प्रारंभ करें हमने जगह -जगह इंटरनेट केंद्र बनाए हुवे है इसके साथ ही हमारा लोक निर्माण विभाग भी कार्य कर रहे हैं जहां-जहां लैंडस्लाइड वाले क्षेत्र हैं वहां जेसीपी खड़ी हुई है ताकि तत्काल मार्ग खोला जा सके।


उत्तराखंड में आज ग्रामीण निर्माण विभाग का स्वर्ण जयंती समारोह मनाया गया। जिसमें विभागीय मंत्री सतपाल महाराज समेत कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत और विभाग के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे। इस दौरान कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि उत्तर प्रदेश राज्य के दौरान 1972 में इस विभाग की स्थापना ग्रामीण अभियंत्रण सेवा विभाग के रूप में की गई थी जिसका मुख्य उद्देश्य ग्रामीण एवं अति दुर्गम स्थानों में आम जनमानस को मूलभूत सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से हुआ था।


उत्तराखंड प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य जसपुर विधायक आदेश चौहान के आवास पर पहुँचे प्रतिपक्ष नेता यशपाल आर्य ने विधायक के निवास पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की वही पत्रकारों से रूबरू होते हुये कहा कि कांग्रेस ने हमेशा राजनीति से ऊपर उठकर काम किया है वही उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा हमेशा सबका साथ सबका विकास का नारा लगाती है लेकिन भाजपा की कथनी और करनी दोनों में अंतर है वंही उन्होंने कहा कि अभी सरकार को 100 दिन हुए है लेकिन कोई बजट ही नही खर्च कर पाए है



प्रदेश में से सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूरी तरह रोक लग जाएगी। शहरी विकास विभाग ने सभी निकायों को 28 जून तक खुद को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त घोषित करने को कहा है। एक जुलाई से प्लास्टिक का उपयोग करने पर पांच हजार रुपये तक जुर्माना वसूला जाएगा केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय पिछले साल ही एक जुलाई 2022 से सिंगल यूज प्लास्टिक के उत्पादन आयात भंडारण बिक्री और इस्तेमाल पर रोक लगा चुका है