क्षेत्रीय

बालाघाट लाइव 23-09-22

Posted by Admin on



डोंगरबोड़ी जलाशय में भारी वर्षा के कारण पानी निकासी के रास्ते से प्रवाह बढ़़ा है

मैग्रीज से भरा ट्रक सड़क किनारे फंसा, आवागमन हुआ अवरूद्ध

निजीकरण के विरोध में ग्रामीण बैंक कर्मचारियों ने किया हड़ताल

बालाघाट तहसील अंतर्गत डोंगरबोड़ी जलाशय के फूटने एवं उससे नुकसान होने के संबंध में मिल रही सूचनाओं के संबंध में जल संसाधन सर्वेक्षण संभाग के कार्यपालन यंत्री एन एस ठाकुर ने बताया कि डोंगरबोड़ी जलाशय की ११० वर्ष पुराना जलाशय होने के कारण इसके सुदृढ़ीकरण एवं मरम्मत के लिए शासन से जून २०२२ में ६३ लाख ५९ हजार रुपये की राशि स्वीकृत की गई है। नाला पोर्सन पर केवल फिल्टर का कार्य आंशिक रूप से करने के उपरांत वर्षा ऋतु प्रारंभ हो जाने के कारण सुधार कार्य रूका हुआ था। इस जलाशय के सुधार कार्य के लिए धीरे-धीरे पानी की निकासी की जाना था और इसके लिए वेस्टवियर के साईड से कटिंग कर पानी की निकासी के लिए रास्ता बनाया जा चुका था। लेकिन पिछले तीन-चार दिनों में भारी वर्षा होने के कारण पानी की निकासी के लिए बनाये गये रास्ते से अत्यधिक प्रवाह होने लगा है।

विशाखापट्टनम से ट्रक मेग्रीज भरकर बालाघाट के वारासिवनी जा रहा था। इसी दौरान बालाघाट शहर के आकाशवानी मार्ग के पास २१ सितम्बर की रात लगभग ११ बजे के बीच ट्रक फंस गया । ट्रक के फंस जाने के कारण आवागमन अवरूद्ध हो गया। आपको यहां यह बता दे कि इस मार्ग पर विद्युत विभाग सहित स्कुल भी आते है। ट्रक के फंस जाने से स्कुली छात्रो को काफी परेशानीयों का सामना करना पड़ा । ट्रक को निकालने के लिये ट्रक के कर्मीयों द्वारा प्रयास किया जा रहा है लेकिन अभी तक फंसे ट्रक को नही निकाला गया है।

शारदीय नवरात्रा पर्व आगामी २६ सितंबर से प्रारंभ हो रहा है इसी दौरान जिले के युवा भक्तो द्वारा मनोकामनाएं पूर्ण करने के लिए पदयात्रा निकाली गई इसी तारतम्य में ग्राम कायदी से लगभग १०० युवाओ का जत्था डोंगरगढ़ के लिये रवाना हुआ। इस संबंध में भक्तो के द्वारा बताया गया कि ग्राम कायदी से डोंगरगढ़ में विराजित मां बम्बलेश्वरी के दर्शन के लिये १०० युवा भक्तो का जत्था रवाना हुआ। जिसमें पदयात्रा करते हुये २६ सितंबर को डोंगरगढ़ पहुंचेगे।

बैंक का निजीकरण किये जाने के विरोध में व कर्मचारियों की मांगों को लेकर सेन्ट्रल ग्रामीण बैंक के कर्मचारियों ने शुक्रवार को बैंक में तालाबंदी कर एक दिवसीय हड़ताल किया। इस संबंध में पदाधिकारियों ने बताया कि बैंक का निजीकरण करने से आम जनता का काफी नुकसान होगा। बैंक के दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को नियमित किया जाना चाहिए।

किरनापुर मुख्यालय के अंतर्गत जनपद पंचायत के किरनापुर के बाजू में आजाद अध्यापक संघ के द्वारा अनिश्चितकालीन हड़ताल धरना प्रदर्शन का आज ११ दिन हो चुका है वही धरना प्रदर्शन स्थल पर पहुंचे जिला अध्यक्ष आशीष बिसेन के द्वारा कहा गया कि जब तक सरकार के द्वारा पुरानी पेंशन बहाली पर हरी झंडी नहीं दी जाती तब तक यह हड़ताल अनवरत जारी रहेंगी। वही ३०००० राशि का चेक ब्लॉक अध्यक्ष संतोष जामरे व सहयोगीयो को आंदोलन मजबूत करने के लिए सहयोग हेतू दिया गया। चिंता का विषय है की जहां गरीब बच्चे प्राथमिक शाला माध्यमिक शाला में पढ़ रहे हैं कुछ स्कूलो में ताला लगा होने के कारण शिक्षा के साथ-साथ कुछ स्कूलों में पोषण आहार स्वरूप मध्यान भोजन भी बंद है।

शुक्रवार को उकवा में लगने वाला बैठकी बाजार क्षेत्र का सबसे बड़ा बाजार है मगर यहां गंदगी हर तरफ देखी जा सकती है उकवा बाजार में आने वाले दुकानदार एवं खरीददारों को सबसे ज्यादा परेशानी बाजार के अंदर घूम रहे मवेशियों से होती है मवेशी दुकानदारो की दुकान का सामान तो खाते ही हैं साथ ही कई बार उनकी दुकानों के ऊपर चढ जाते हैं जिससे दुकानदारों का सामान बर्बाद हो जाता है और उन्हें नुकसान सहना पड़ता है खरीदारों ने बताया कि सामान लेते समय कई बार मवेशी सिंग से धक्का मार कर घायल कर देते हैं इन आवारा मवेशियों का आतंक रोकने वाला कोई नहीं है और ना ही इनके मालिकों का अता पता है ।

बालाघाट. वेयर हाउस संचालकों को तीन साल से किराया नहीं मिलने पर विरोध जताते हुये जिला वेयर हाउस एसोसिएशन के नेतृत्व में शुक्रवार को कलेक्टर कार्यालय पहुंच शीघ्र किराया दिलाने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा और ज्ञापन के साथ-साथ प्रबंधक को गोदामों की चाबी भी सौंप दी। उन्होंने प्रबंधक को चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक उन्हें किराया नहीं मिलेगा तब तक वह गोदामों की चाबी वापस नहीं लेंगे।