क्षेत्रीय

बालाघाट लाइव 22-09-22

Posted by Admin on



खराब मौसम के कारण मुख्यमंत्री नहीं पहुंच सके कैंडाटोला मलाजखंड
कमलनाथ ने किया वीरांगना अवंति बाई लोधी की भव्य प्रतिमा का अनावरण
बम्लेश्वरी माता के दरबार में लगायेंगे हाजरी



मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आज 22 सितंबर को मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान शिविर में कैंडाटोला मलाजखंड आने का कार्यक्रम निर्धारित था। लेकिन अधिक वर्षा होने एवं मौसम खराब होने के कारण सौंसर जिला छिंदवाड़ा से हेलीकॉप्टर का उड़ना संभव नहीं होने के कारण वे कैंडाटोला मलाजखंड नहीं पहुंच सके। इस पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मोबाइल फोन के जरिए कैंडाटोला शिविर में उपस्थित जन समुदाय को संबोधित किया मुख्यमंत्री चौहान ने खराब मौसम के कारण कैंडाटोला शिविर में नहीं आने के लिए जनता से क्षमा मांगते हुए कहा कि वे मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान के अंतर्गत लगने वाले दूसरे शिविर में शीघ्र ही आने का प्रयास करेंगे ।कैंडाटोला में आयोजित जनसेवा अभियान शिविर में आयुष मंत्री श्री रामकिशोर कावरे ने विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ का वितरण किया । इस अवसर पर उन्होंने लाड़ली लक्ष्मी योजना की बालिकाओं का सम्मान किया और उन्हें प्रमाण पत्र प्रदान किया। कार्यक्रम में उद्यानिकी विभाग की योजना के अंतर्गत काजू फलोद्यान वस्तार के लिए 2 हितग्राहियों को काजू के पौधे वितरित किए गए।



जिला मुख्यालय बालाघाट से लगभग ८ किमी. दूर स्थित ग्राम कायदी से श्रध्दालुओं का जत्था २२ सितंबर को भारी बारिश के बीच मॉं बम्लेश्वरी माता के दरबार में हाजरी लगाने के लिए डोंगरढ़ पग यात्रा करते हुए डोंगरगढ़ के लिए रवाना हुए। इस दौरान श्रध्दालु माता रानी के जयकारे लगाते हुए बरसात के बीच अपने गंतव्य की ओर आगे बढ़े जिनमें पगयात्रा को लेकर काफी उत्साह नजर आया। कायदी निवासी माता रानी के भक्त रमेश नागेश्वर ने बताया कि वे प्रतिवर्ष बम्लेश्वरी माता के दरबार में हाजरी लगाने जाते है और १५ वर्षों से लगातार वे लोग डोंगरगढ़ जाते है। श्री नागेश्वर ने बताया कि उनकी कोई संतान नहीं थी और उन्होंने माता रानी से मन्नते मांगी थी जिसके बाद उनकी दो बेटियां हुई जब से वे माता की सेवा करते आ रहे है।

मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा खैरलांजी में अखिल भारतीय लोधी महासभा द्वारा आयोजित वीरांगना अवंति बाई लोधी की भव्य प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम के बाद जनता को संबोधित करते हुए कहा कि पड़ोसी जिलों की रियासतों को वीरांगना रानी अवंति बाई ने जोड़ने का कार्य किया था। १८५७ में रानी अवंति बाई ने अंग्रेजों से लोहा लिया था रानी अवंति बाई से प्रेरणा लेनी है उन्होंने अपने देश को बचाया है। आज प्रदेश को बचाने की आवश्यकता है। इस दौरान कमलनाथ का भाषण सामाजिक कम और भाजपा के खिलाफ आक्रोश वाला अधिक दिखाई दिया। आगे आपने भाजपा की सरकार को झूठ और कलाकारी की सरकार निरूपित किया। १८ साल के राज में यह सरकार आज पूरे देश में भ्रष्टाचार करने के मामलें के एक नंबर पर है। उन्‍होने कहा कि मध्यप्रदेश के भविष्य के लिए सभी को मिलकर लड़ने की आवश्यकता है। आज नौजवान बेरोजगार है,किसानों को न्याय नही मिल रहा है। खाद,धान के लिए न्याय की लड़ाई लड़ना है। तस्वीर सबके सामने है। कांग्रेस का साथ मत देना, भाजपा का साथ मत देना परंतु सच्चाई का साथ जरूर देना।


गोंदिया से जबलपुर पेसेजंर ट्रेन चलाने की मांग को लेकर चरेगांव रेलवे स्टेशन मास्टर को रेल मंत्री के नाम १८ गांव के ग्रामीणों ने रेल विस्तार हेतु चरेगांव क्षेत्र के अनेकों ग्राम से आए ग्रामीणों द्वारा एकत्रित होकर रेल मंत्री के नाम रेलवे स्टेशन पहुंचकर स्टेशन मास्टर को ज्ञापन सौपते हुए कहा गया कि विभिन्न मांगों को अवगत कराते हुए शीघ्र ही लोकल पैसेंजर पुरानी निरोग रेज के आधार पर ट्रेनें चलाई जाए ग्रामीणों को रेल सुविधा के अभाव में बसों में महंगा किराया देकर लूटने मजबूर होना पड़ रहा है जहां स्कूल एवं कॉलेज के बच्चे एवं स्वास्थ सुविधा तथा जिला मुख्यालय जाना पड़ता है


बार काउंसिल ऑफ इण्डिया द्वारा राजा शंकरशाह विश्वविद्यालय छिंदवाड़ा को मान्यता नहीं होने से एलएलबी की पढ़ाई कर रहे विश्वविद्यालय से संबंधित कॉलेज के छात्रों का भविष्य अंधकार में है। छात्र एलएलबी की ड्रिग्री तो प्राप्त कर लेंगे लेकिन उन्हें वकालत करने की अनुमति नहीं होगी। विधि संकाय के छात्रों ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट पहुंच कलेक्टर को ज्ञापन सौंप छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय को मान्यता दिलवाने की मांग की है।ज्ञापन सौंपने पहुंचे पीजी कॉलेज के विधि संकाय के विद्यार्थियों ने बताया कि राजा शंकरशाह विश्वविद्यालय छिंदवाड़ा को बार काउंसिल ऑफ इण्डिया से मान्यता नहीं दी गई है।



लालबर्रा मुख्यालय से लगभग १० किमी. दूर ग्राम पंचायत धारावासी के अंतर्गत आने वाले ग्राम केवाटोला में बंदरों के आतंक से किसान परेशान है जिनकी फसलों को बंदर नुकसान पहुंचा रहे है। केवाटोला निवासी महिला श्रीमती शांता पटले ने बताया कि बंदरों का झुंड रोजाना गांव में आकर घरों पर कूदते है और बाड़ी में लगी सब्जी की फसल तथा खेतों में लगी तुअर, मूंग सहित अन्य फसलों को चट कर रहे है जिससे किसान परेशान है। साथ ही घरों की कवेलू को भी नुकसान पहुंचा है जिसे मिट्टी के कच्चे मकान क्षतिग्रस्त हो रहे है। ऐसी स्थिति में बंदरों को दूर भगाने के लिए पटाखे फोड़कर डराने का प्रयास किया जा रहा है ताकि बंदर गांव की ओर ना आए।


२२ सितंबर की सुबह बालाघाट से बैहर मार्ग पर उदघाटी के पास एक भीषण हादसा घटित हो गया। जहां एक ट्रक अनियंत्रित होकर लगभग ३० फिट गहरी खाई में जा गिरा। जहां हांदसे में ट्रक चालक गंभीर रूप से घायल हो चुका था और वह ट्रक में ही फंसा था। इस हादसे के दौरान मलाजखंड में आयोजित सीएम के कार्यक्रम में डयुटी के लिये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नक्सल सेल आदित्य मिश्रा व उनका पुलिस बल जा रहा था। जिनकी नजर खाई में गिरे ट्रक पर पडी। जहां एएसी आदित्य मिश्रा ने अपना वाहन रूकवाया और हादसे की जानकारी ली। जब उन्हे पता चला कि ट्रक चाल गंभीर रूप से घायल अवस्था में ट्रक में फंसा है, तो उन्होने पुलिस जवानो को एक रस्सी के सहारे खाई में उतरवाया और ट्रक में फंसे चालक को बाहर निकलने के लिये कहा।