राज्य

प्रदेश एक्सप्रेस

Posted by Divyansh Joshi on



1

मध्य प्रदेश में लगातार बारिश का दौर जारी हैद्य मध्यप्रदेश के कई जिलों में बारिश के कारण बाढ़ के हालात बने हुए हैं। भाव से घिरे लोगों को लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा रहा हैद्य इस बार बारिश ने प्रदेश में कई सालों का रिकार्ड तोड़ दिया हैद्य प्रदेश में अभी तक सामान्य(894.6 मिमी) के मुकाबले 1192.2 मिमी वर्षा हो चुकी है, जो कि सामान्य से 33 फीसदी अधिक है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक पिछले 24 साल में दूसरी बार मप्र में रिकार्ड बरसात हुई है।
2
भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह पर बड़ा जुबानी हमला किया है। दिग्विजय के भगवा वस्त्र पहनकर मंदिरों में दुष्कर्म वाले बयान पर ग्वालियर पहुंचे गोपाल भार्गव ने कहा कि मैं वैसे उनकी किसी भी बात का जवाब नहीं देना चाहता क्योंकि वे देश के सबसे अगंभीर राजनेता हैं। उनमें गंभीरता नाम मात्र के लिए भी नहीं है।


3
प्रदेश में भारी बारिश से हुई बर्बादी को लेकर एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने सरकार को आरोप-प्रत्यारोप और राजनीति छोड़कर जनता की मदद करने की बात कही है।शिवराज का कहना है कि मैने लगातार मंदसौर और नीमच बाढ़ग्रस्त इलाको का दौरा किया है और आज भी भिंड-मुरैना जा रहा हूं। मैं इस आपदा पर श्वेत पत्र जारी करने की मांग करता हूं।जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्यवाही हो।पैसा रुकवाने के आरोपों पर शिवराज ने कहा कि सरकार और मंत्रियों को शर्म आनी चाहिए कितने मंत्री गए केंद्र के पास।मैं

4
सत्ता में आने के बाद से ही प्रदेश की कमलनाथ सरकार कर्जमाफी को लेकर चारों तरफ से घिरी हुई है।विपक्ष के साथ साथ अब तो सत्तापक्ष के नेता भी कर्जमाफी पर सवाल उठाने लगे है। इसी कड़ी में हमेशा अपने बयानों से सरकार की मुश्किलें बढ़ाने वाले दिग्विजय सिंह के छोटे भाई और कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने एक बार फिर अपनी ही सरकार के खिलाफ बड़ा बयान दिया है। लक्ष्मण सिंह का कहना है कि राहुल गांधी को दस दिन मे कर्जमाफी की घोषणा नही करनी चाहिए थी, इस साल किसानों की कर्जमाफी हो पाएगी।लक्ष्मण के इस बयान के बाद कांग्रेस में खलबली मच गई है


5
लोकसभा चुनाव में जीत का स्वाद चख चुकी बीजेपी का पूरा फोकस अब नगरीय निकाय और संगठन चुनाव पर है। इसके लिए भोपाल से लेकर दिल्ली तक बैठके की जा रही है। वही पार्टी निकाय चुनाव में पार्षद से लेकर सभी पदों के लिए युवाओं को टिकट देने की भी रणनीति बना रही है।पार्टी का मानना है कि युवा वर्ग नए जोश और जूनून के साथ काम करेगा, जिससे ना सिर्फ बूथ मजबूत होगा बल्कि लोगों के बीच न्यू इंडिया का मैसेज भी पहुचेगा।