राष्ट्रीय

केरल में एयर इंडिया विमान दुर्घटना, विमान तीन टुकड़ों में बंटा, 19 की मौत

Posted by khalid on



केरल के कोझिकोड में एयर इंडिया एक्सप्रेस विमान दुर्घटना को लेकर अहम जानकारी मिली है। रात के हादसे के बाद सुबह की तस्वीर देखकर पता चला है कि विमान दो नहीं बल्कि तीन टुकड़ों में बंट गया था। इसके साथ ही मृतक संख्या 19 पहुंच गई है, जिनमें दो पायलट शामिल हैं। डीपीसीए के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। जांच की जा रही है ताकि हादसे के सही कारणों का पता लगाया जा सके। बता दें, वंदे भारत अभियान के तहत खाड़ी में फंसे भारतीय को वापस ला रहा एयर इंडिया एक्सप्रेस का विमान शुक्रवार रात कोझिकोड एयरपोर्ट पर हादसे का शिकार हो गया था।

केरल के कोझिकोड में करीपुर एयरपोर्ट पर एयर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान लैंडिंग करने के दौरान फिसल गया और खाई में गिर गया। इस भीषण हादसे में दो पायलट समेत 19 लोगों की मौत हो गई। इस हादसे से नौ साल पहले नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा गठित एक सुरक्षा सलाहकार समिति के एक सदस्य ने चेतावनी देते हुए कहा था कि करीपुर हवाई अड्डा असुरक्षित है और यहां लैंडिंग की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। हालांकि शुक्रवार को हुए हादसे से पता चलता है कि उनकी चेतावनी पर किसी ने ध्यान नहीं दिया।

वंदे भारत मिशन की उड़ान से स्वदेश लौट रहे कई लोगों के लिए यह यात्रा काल बनकर सामने आई। भारी बारिश के बीच लैंड करने की कोशिश में हुए विमान हादसे ने कई सवाल तो खड़े किए ही हैं, लेकिन एयरपोर्ट अधिकारियों के हवाले से यह बात भी सामने आ रही है कि इस दुर्भाग्यशाली उड़ान के कमांडर डीवी साठे ने विमान को बचाने की अंतिम दम तक कोशिश की। वे हादसे को तो नहीं टाल पाए, लेकिन अपनी जान देकर भी विमान के अधिकतर यात्रियों की जान बचाने में कामयाब रहे। हादसे में जान गंवाने वाले पायलट कैप्टन दीपक वसंत साठे और सह पायलट अखिलेश कुमार थे।

दिल्ली हाई कोर्ट ने दिल्ली पुलिस के एक सीनियर अधिकारी को उनके एक विवादित आदेश को लेकर शुक्रवार को क्लीन चिट दे दी। कोर्ट ने कहा कि नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली दंगों की जांच कर रही अपनी टीमों के लिए स्पेशल पुलिस कमिश्नर के आदेश में किसी भी समुदाय के लोगों के लिए कोई पक्षपात नहीं है। अधिकारी ने अपने आदेश में टीमों को गिरफ्तारी करते समय उचित एहतियात बरतने को कहा था।

तबलीगी जमात के मामले में कई मीडिया की गलत रिपोर्टिंग पर सवाल उठाने वाली जमीयत उलेमा ए हिंद की याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि सरकार तब तक हरकत में नहीं आती जब तक कि कोर्ट उन्हें निर्देश नहीं देती। सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एसए बोबडे की अगुवाई वाली बेंच ने कहा कि हमने ये अनुभव किया है कि सरकार एक्ट नहीं करती जब तक कि हम निर्देश जारी नहीं करते। अदालत ने ये टिप्पणी तक कि जब याचिकाकर्ता के वकील दुश्यंत दवे ने सुनवाई के दौरान कहा कि मरकज मामले में मीडिया ने गलत रिपोर्टिंग की थी और ऐसे में सिर्फ सरकार चाहे तो एक्शन ले सकती है।

आपने अभी तक गाय, भैंस, बकरी या ऊंट के दूध का सेवन किया है या सुना होगा, लेकिन देश में पहली बार गधी के दूघ की भी डेयरी खुलने वाली है और सबसे अच्छी बात तो यह है कि गधी का दूध शरीर का इम्यून सिस्टम ठीक करने में भी काफी अहम भूमिका निभाता है। देश में पहली बार राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केंद्र (एनआरसीई) हिसार में हलारी नस्ल की गधी के दूध की डेयरी शुरू होने जा रही है। इसके लिए एनआरसीई ने 10 हलारी नस्ल की गधियों को पहले ही मंगा लिया था. जिनकी मौजूदा समय में ब्रीडिग की जा रही है।

गृह मंत्रालय ने कुछ प्रमुख देशों के ओसीआई कार्डधारकों को बड़ी राहत दी है। अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी और फ्रांस में रहने वाले प्रवासी भारतीय नागरिक जो कि ओसीआई कार्ड धारक हैं, उन्हें भारत में यात्रा करने की अनुमति दी जा रही है। इस आदेश के बाद अब इन देशों के ओसीडी कार्डधारक भारत की यात्रा कर पाएंगे। इन देशों के अन्य विदेशियों को भी व्यापार, चिकित्सा और रोजगार जैसे उद्देश्यों के लिए भारतीय वीजा सुविधा प्राप्त करने की अनुमति प्रदान की गई है।

अयोध्या में श्रीराम मंदिर के लिए भूमिपूजन के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी टीम फील्ड में कोविड-19 महामारी से बचाव व रोकथाम की व्यवस्था के प्रबंधन में नए सिरे से जुट गई है। योगी शनिवार सुबह नोएडा में अत्याधुनिक कोविड अस्पताल का लोकार्पण करने के बाद एचसीएल कंपनी की ओर से स्थापित अत्याधुनिक इंटीग्रेटेड कोविड कंट्रोल रूम का निरीक्षण भी कर सकते हैं। यह कंट्रोल रूम वहां कोविड नियंत्रण वार रूम के तौर पर काम कर रहा है।

देश में पहले एक लाख मरीज 110 दिन में मिले थे, अब सिर्फ दस दिन में पांच लाख से अधिक लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। कुल मरीज 20 लाख से ज्यादा हो चुके हैं। शुरुआती 110 दिनों में रोज औसतन 909 मरीज मिले। पिछले दस दिनों में औसतन 50 हजार मरीज मिले हैं। सरकारी आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि देश में कुल संक्रमितों की संख्या एक से पांच लाख 26 जून को हुई थी और इसमें केवल 39 दिन लगे थे। इसके बाद संक्रमण की रफ्तार और तेज हुई और 16 जुलाई को कुल मरीजों का आंकड़ा 10 लाख हो गया वो भी सिर्फ बीस दिन के भीतर।

सुशांत सिंह राजपूत की खुदकुशी के बाद उनके पिता केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बिहार के पटना में एफआईआर दर्ज कराई थी। इस शिकायत में सुशांत के पिता ने रिया पर उनके बेटे को खुदकुशी के लिए उकसाने, आर्थिक और मानसिक रूप से परेशान करने का आरोप लगाया है।

रिया चक्रवर्ती की ओर से पटना में दर्ज केस को मुंबई ट्रांसफर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दी गई थी जिस पर कोर्ट ने बिहार और महाराष्ट्र से तीन दिन के अंदर जवाब दाखिल करने के लिए कहा था।

भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की शेलिंग का मुंहतोड़ जवाब दिया है। शुक्रवार को जब पाकिस्तान ने तंगधार सेक्टर में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया तो सेना ने जवाबी कार्रवाई की। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में लॉन्चपैड्स को निशाना बनाकर किए गए हमले से खासा नुकसान होने की खबर है। लेपाघाटी में एक महिला की मौत हुई जबकि चार लोग घायल हो गए। कई इमारतें धराशायी नजर आ रही हैं और बड़े पैमाने पर नुकसान साफ दिख रहा है।

ओडिशा में शनिवार की सुबह भूकंप के झटकों के साथ हुई। जानकारी के मुताबिक प्रदेश के बरहामपुर इलाके में शनिवार सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.8 मापी गई है। ओडिशा के अलावा असम में भी भूकंप के झटकों की खबर है। हालांकि, दोनों ही जगहों पर जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है। ओडिशा के बरहामपुर में सुबह 7 बजकर 10 मिनट पर भूकंप ने दस्तक दी थी।

भारतीय सेना और वायुसेना लद्दाख, उत्तरी सिक्किम, उत्तराखंड और अरुणाचल प्रदेश में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ सभी क्षेत्रों में बेहद उच्च स्तरीय परिचालन तत्परता बनाए रखेंगी। साथ ही जब तक चीन के साथ सीमा गतिरोध को लेकर संतोषजनक समाधान सामने नहीं आता, तब तक उच्च स्तरीय सतर्कता बरती जाएगी। सूत्रों ने यह बात कही।


दुनिया में शुक्रवार तक कोरोना वायरस संक्रमण से 1.92 करोड़ लोग प्रभावित हो चुके हैं जबकि 7.18 लाख लोग जान गंवा चुके हैं। इस बीच, यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन के विशेषज्ञों ने दावा किया है कि इस साल दिसंबर तक अमेरिका में तीन लाख लोग मारे जा सकते हैं। उधर, डब्ल्यूएचओ पहले ही कह चुका है कि कोरोना वायरस अब बच्चों, किशोरों और युवाओं को भी तेजी से संक्रमित कर रहा है। हालांकि संक्रमण से ठीक होने वालों की तादाद भी 1.23 करोड़ पार हो गई है।

चीन में महामारी के केंद्र रहे वुहान शहर के एक अस्पताल से ठीक हुए कोरोना संक्रमित मरीजों को लेकर एक और चैंकाने वाला खुलासा हुआ है। दरअसल, कोरोना के मरीज रहे इन लोगों के फेफड़े 90 फीसदी तक बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। यही नहीं, ठीक हुए मरीजों में से 5 प्रतिशत मरीज दोबारा संक्रमित भी हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है। बता दें कि चीन में पुराने मामलों को लेकर हुए इस खुलासे के बीच नए मामले भी दर्ज किए जा रहे हैं। इनमें से 22 मामले सिर्फ शिनजियांग प्रांत में दर्ज हुए हैं।

मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने माना है कि कश्मीर पर उनकी टिप्पणी के कारण भारत के साथ उनके देश के रिश्तों में तनाव आया। उन्होंने यह भी कहा उनके नेतृत्व के दौरान कश्मीर के अलावा दोनों देशों के बीच संबंध बहुत अच्छे रहे। महातिर एक समय में दुनिया के सबसे लंबे वक्त तक सेवा देने वाले निर्वाचित नेता थे। वह नई पार्टी का गठन कर सत्ता में फिर वापसी करने की कोशिश में हैं।

लेबनान के राष्ट्रपति मिशेल ऑन ने कहा कि मंगलवार को बेरूत में हुए भीषण विस्फोट को लेकर दो संभावनाएं जताई है। उन्होंने कहा कि इस धमाके को लेकर दो कारण हो सकते हैं। विस्फोट या तो लापरवाही के कारण हुआ हो सकता है या मिसाइल या बम द्वारा बाहरी हस्तक्षेप की वजह से हुआ है। ऑन ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने फ्रांस से कहा कि वह उपग्रह की तस्वीरों से यह देखे कि क्या विस्फोट के समय आसमान में कोई जंगी विमान या मिसाइल थी।

नेपाल में सत्तारूढ़ पार्टी में जारी सियासी गतिरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी के अध्यक्ष पुष्प कमल दहल प्रचंड ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्हें सबसे खराब परिस्थिति के लिए तैयार रहने को कहा है। खबर आ रही है कि नेपाली कैबिनेट में सत्ता बटवारे को लेकर प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली और प्रचंड के बीच वार्ता फेल हो गई है। ओली और प्रचंड ने आपसी विवाद को सुलझाने के लिए कम से कम 10 बैठकें की। इस दौरान पार्टी की ओर से सुझाए गए श्वन मैन-वन पोस्टश् की नीति को पीएम ओली ने मानने से इनकार कर दिया जिसके कारण यह वार्ता विफल हो गई।