क्षेत्रीय

छिंदवाड़ा लाइव

Posted by Admin on



भाजपा और कांग्रेस से लग रहा बगियों को डर प्रीति बिसेन ने प्रशासन से मांगी सुरक्षा

निर्मला इंग्लिश मीडियम स्कूल में बिक रही ड्रेस शिक्षा विभाग के निर्देशों की उड़ रही धज्जियां

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए 100 बस हुई अधिग्रहित परिवहन विभाग ने की कार्यवाही

नामांकन वापसी को लेकर कलेक्ट्रेट में दिन भर रही गहमागहमी कुछ निर्दलीय प्रत्याशियों ने उठाए फॉर्म

1 भारतीय जनता पार्टी से बगावत करके अब जितेंद्र शाह और प्रीति बिसेन की टीम के द्वारा नगर पालिक निगम चुनाव में निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा की गई है। प्रीति बिसेन ने बताया कि नगर पालिक निगम के 48 वार्डों में से 38 वार्डों में उनके द्वारा प्रत्याशी चुनावी मैदान में उतारे गए हैं। उन्होंने जिला प्रशासन से भाजपा और कांग्रेस दोनों ही राजनीतिक संगठन से सुरक्षा व्यवस्था की मांग की है।गौरतलब है कि टिकट नहीं मिलने से भारतीय जनता पार्टी के एक गुट के द्वारा नगर पालिक निगम चुनाव में भाजपा से बगावत करते हुए चुनाव लड़ा जा रहा हैं। नाम वापसी के आखिरी दिन भी पार्टी से बगावत करने वाले प्रत्याशियों के द्वारा नामांकन फॉर्म नहीं उठाए गए।


2 स्टेट बैंक के पास स्थित निर्मला इंग्लिश मीडियम स्कूल में शाला परिसर के अंदर ही स्कूल ड्रेस बिकने का मामला सामने आया है। स्कूल प्रबंधन के द्वारा शाला कैंपस के अंदर स्कूली विद्यार्थियों की ड्रेस की बिक्री की जा रही थी। इसका वीडियो सामने आने के बाद अब स्कूल प्रबंधन मामले से पल्ला झाड़ रहा है। प्रबंधन का कहना है कि बच्चों की ड्रेस का नाप लेने के हिसाब से स्कूल परिसर के अंदर काउंटर बनाए गए थे। यहां पर कोई ड्रेस की बिक्री नहीं हो रही थी। गौरतलब है कि शिक्षा विभाग के द्वारा स्कूलों में शिक्षण सामग्री के विक्रय पर प्रतिबंध लगाया गया है। परंतु इस प्रतिबंध के बावजूद भी निर्मला इंग्लिश मीडियम स्कूल में ड्रेस की बिक्री हो रही थी।


त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर जिला प्रशासन के द्वारा बसों का अधिग्रहण किया जा रहा है। इसी क्रम में बुधवार को कलेक्ट्रेट कार्यालय के सामने निर्वाचन कार्य के लिए परिवहन विभाग के द्वारा बसे अधिग्रहित की गई। एआरटीओ निशा चौहान ने बताया कि बालाघाट क्षेत्र में निर्वाचन कार्य के लिए छिंदवाड़ा से 100 बस अधिग्रहित करने की कार्यवाही की जा रही है।इन बसों को चुनावी कार्य के लिए बालाघाट भेजा जाएगा।



4 नामांकन फॉर्म उठाने की आखिरी तिथि होने के चलते आज दिन भर कलेक्ट्रेट परिसर में गहमागहमी का माहौल रहा। यहां पर भाजपा और कांग्रेस दोनों ही राजनीतिक पार्टियों के बागी प्रत्याशियों के द्वारा अपने नामांकन फॉर्म उठाए गए। हालांकि कांग्रेस की तुलना में भाजपा में बगावत ज्यादा दिखाई दी। कलेक्ट्रेट कार्यालय में भाजपा से बगावत करके नामांकन दाखिल करने वाले सिर्फ 6 उम्मीदवारो के द्वारा ही नामांकन फॉर्म वापस उठाया गया है।



नगर पालिक निगम के चुनाव में जिन प्रत्याशियों के द्वारा नामांकन दाखिल किए गए हैं। उन्हें निर्वाचन कार्य का वित्तीय ब्योरा रखने सहित निर्वाचन संबंधी जानकारी को लेकर स्थानीय गर्ल्स कॉलेज में मास्टर ट्रेनर्स के द्वारा कार्यशाला के माध्यम से जानकारी प्रदान की गई। इस मौके पर नगर पालिक निगम के चुनाव में हिस्सा लेने वाले मेयर प्रत्याशी सहित सभी राजनीतिक दलों के पार्षद प्रत्याशी भी मौजूद थे।


break


सारांश संगीत शिक्षा केन्द्र द्वारा विश्व संगीत दिवस मनाकर कर विविध अनुष्ठान किये गए। जिसमे नन्हे मुन्ने बच्चों ने सुंदर प्रस्तुति देकर सभी का मन मोह लिया। कार्यक्रम का सफल संचालन संस्था के संचालक कमलेश बरमैय्या ने किया।

कलेक्ट्रेट कार्यालय में नाम वापसी की आखिरी दिन कांग्रेस से बगावत करके मेयर पद का चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों के द्वारा अपना नामांकन वापस लिया गया। इसी तरह कांग्रेस कि टिकट नहीं मिलने से नाराज कुछ दावेदार पार्षद प्रत्याशियों के द्वारा भी नामांकन वापस लिए गए हैं।

नगर पालिक निगम चुनाव में नाम वापसी की आखिरी तिथि के बाद आज कलेक्ट्रेट कार्यालय में चुनाव लड़ने वाले मेयर और पार्षद पद के प्रत्याशियों को चुनाव चिन्ह आवंटित किए गए। राजनीतिक पार्टियों के अलावा निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों को भी चुनाव चिन्ह दिए गए हैं।

नगर पालिक निगम सभाकक्ष में बुधवार को निगम कमिश्नर हिमांशु सिंह के द्वारा सप्ताहिक समीक्षा बैठक ली गई। जिसमें निगम के विभागवार कार्यों की समीक्षा की गई। अतिक्रमण, स्वच्छता, राजस्व वसूली और सीएम हेल्पलाइन सहित अन्य मामलों को लेकर निगम कमिश्नर हिमांशु सिंह के द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए


नामांकन वापसी के आख़री दिन टिकट नहीं मिलने से नाराज कुछ भाजपा के दावेदार बागी प्रत्याशियों के द्वारा पार्टी हित में कार्य करने के उद्देश्य से अपना नामांकन वापस लिया गया। भाजपा जिला अध्यक्ष विवेक बंटी साहू भी इस मौक़े पर मौजूद थे। जिन्होंने नामांकन वापस लेने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं का आभार माना।