राष्ट्रीय

International News मुस्लिम नेताओं को सरकार की चेतावनी कहा -20-11-20

Posted by khalid on



फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने देश भर के मुस्लिम नेताओं से कट्टरपंथी इस्लाम के खिलाफ एक राष्ट्रव्यापी मुहिम के हिस्से के रूप में श्प्रजातांत्रिक मूल्यों के चार्टरश् को स्वीकार करने के लिए कहा है. मैक्रों ने चार्टर को स्वीकार करने के लिए फ्रेंच काउंसिल ऑफ द मुस्लिम फेथ (सीएफसीएम) को 15 दिन का अल्टीमेटम दिया है, जिसमें कहा जाएगा कि इस्लाम धर्म है और न कि राजनीतिक आंदोलन, इसका मकसद मुस्लिम समूहों में श्विदेशी हस्तक्षेपश् को भी रोकना है.

अमेरिका के विस्कॉन्सिन राज्य के ववातोसा में मिल्वौकी के पास एक मॉल में गोलीबारी हुई है, जिसमें आठ लोग घायल हो गए हैं। हमलावर मौके से फरार हो गया। ववातोसा के पुलिस प्रमुख बैरी वैबर ने कहा है कि जांचकर्ता मेफेयर मॉल में हुई गोलीबारी के संदिग्ध आरोपी की पहचान करने में जुटे हैं। बैरी ने कहा कि शुरुआती बयानों से पता चलता है कि इस घटना को अंजाम देने वाला आरोपी 20 से 30 साल का पुरुष है। पुलिस प्रमुख ने कहा, दमकल विभाग ने सात वयस्कों और एक किशोर को अस्पताल पहुंचाया है। हालांकि, अभी तक यह नहीं पता चल पाया है कि उनके जख्म कितने गंभीर हैं।

कोरोना वायरस महामारी हजारों तरह की परेशानी लेकर आई है। विकासशील देशों से लेकर विकसित देशों को अर्थव्यवस्था को दोबारा पटरी पर लाने में करने में बहुत मशक्कत करनी पड़ रही है। कोरोना महामारी ने काफी हद तक दुनिया भर में देशों को प्रभावित किया है। वहीं विशेषज्ञों का कहना है लोगों को धन की कमी होगी और भुखमरी तेजी से फैलेगी। संयुक्त राष्ट्र के निकाय विश्व खाद्य कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक ने कहा डेविड बीस्ले ने दुनिया को आगाह किया है उन्होंने कहा कि दुनिया भुखमरी की महामारी की कगार पर खड़ी है। समय रहते जरूरी कदम उठाने होंगे नहीं तो परिणाम बहुत भयानक होंगे।

पाकिस्तान के पंजाब में 17 वर्षीय मुस्लिम किशोर ने शुक्रवार को अल्पसंख्यक अहमदिया समुदाय के एक डॉक्टर की महज इसलिए गोली मारकर हत्या कर दी, क्योंकि उसे डॉक्टर के विचार अपने धर्म के विपरीत लग रहे थे। किशोर ने डॉक्टर के पिता और दो चाचाओं को भी गोली मारकर घायल कर दिया। पुलिस के मुताबिक, घटना शुक्रवार को लाहौर से 80 किलोमीटर दूर ननकाना साहिब के मुर्ह बलोचन में तब हुई, जब अहमदी परिवार के सदस्य नमाज पढने के बाद अपने घर वापस लौटे थे। इसी दौरान वहां बंदूक लेकर पहुंचे किशोर ने उनके ऊपर अंधाधुंध फायरिंग कर दी।

उत्तर पश्चिमी पाकिस्तान के स्वात जिले के एक पहाड़ में पाकिस्तानी और इतालवी पुरातात्विक विशेषज्ञों ने 1,300 साल पुराने एक हिंदू मंदिर को खोज निकाला है। बारिकोट घुंडई में खुदाई के दौरान इस मंदिर का पता लगा। एक जानकारी के मुताबिक यह मंदिर भगवान विष्णु का है और इसे हिंदू शासनकाल के दौरान यहां बनाया गया था। खैबर पख्तूनख्वा के पुरातत्व विभाग के वरिष्ठ अधिकारी फजले खलीक ने बृहस्पतिवार को इसकी घोषणा करते हुए पुष्टि की कि यहां भगवान विष्णु की मूर्ति स्थापित है और कई साल पहले उनकी पूजा की जाती थी। उन्होंने यह भी कहा कि इस मंदिर को 1,300 साल पहले हिंदू शाही काल के दौरान बनाया गया था।


अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में मतगणना अंतिम दौर में है। जबकि अधिकांश राज्यों में डेमोक्रेट नेता जो बाइडन अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी राष्ट्रपति ट्रंप पर जीत हासिल कर चुके हैं। ऐसे में ट्रंप ने अपनी अंतिम कोशिशें तेज करते हुए मिशिगन में रिपब्लिकन नेताओं को व्हाइट हाउस बुला लिया है ताकि वे इस राज्य से बाइडन की स्पष्ट जीत को प्रमाणित करने से रोक सकें। बता दें कि मिशिगन राज्य में रिपब्लिकन सरकार है और यहां से राष्ट्रपति चुनाव में बाइडन जीते हैं। ट्रंप अभियान ने यहां बाइडन की जीत को चुनौती देते हुए मुकदमा भी लगाया, लेकिन अब रिपब्लिकनों ने कहा है कि वे मुकदमा वापस लेने जा रहे हैं। ट्रंप के लिए यह बड़ा झटका है इसलिए वह अंतिम जोड़तोड़ में जुट गए हैं।

पाकिस्तान की एक अदालत ने मुंबई हमलों के सरगना तथा जमात-उद-दावा (जेयूडी) के प्रमुख हाफिज सईद के दो और करीबियों को आतंकवाद के वित्तपोषण के मामले में शुक्रवार को जेल की सजा सुनाई। लाहौर की आतंकवाद रोधी अदालत (एटीसी) ने जेयूडी के नेताओं मोहम्मद अशरफ को छह साल जबकि लुकमान शाह को साढ़े पांच साल के कारावास की सजा सुनाई। एटीसी न्यायाधीश अरशद हुसैन भट्टा ने उनपर 10-10 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया।


डोनाल्ड ट्रंप के बेटे डोनाल्ड ट्रंप जूनियर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसकी जानकारी उनके प्रवक्ता ने दी। इससे पहले राष्ट्रपति ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया भी कोरोना संक्रमित पाई गई थीं। साथ ही इससे पहले इनके छोटे बेटे बैरन को भी कोरोना हो गया था, इसका जिक्र ट्रंप ने एक रैली मेें किया था। ट्रंप ने विस्कॉन्सिन में हुई एक चुनावी रैली में कहा था कि उनके बेटे बैरन को कोरोना वायरस था, जो मात्र 15 मिनट में ही चला गया। बता दें कि खुद ट्रंप कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे और उनका अस्पताल में इलाज चला था। हालांकि इस दौरान भी वह अपने काफिले के साथ बाहर निकले थे जिसे लेकर उनकी खूब आलोचना हुई थी।

जो बाइडन ने एक और भारतीय अमेरिकी को अपनी टीम में अहम स्थान दिया है। उन्होंने अपनी पत्नी जिल बाइडन के लिए भारतीय-अमेरिकी माला अडिगा को नीति निदेशक नियुक्त किया है। साल 2008 में पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के अभियान में भी अडिगा काम कर चुकी हैं। अडिगा ने जिल के एक वरिष्ठ सलाहकार और बिडेन-कमला हैरिस अभियान के वरिष्ठ नीति सलाहकार के रूप में काम किया है। इससे पहले, अडिगा बाइडन फाउंडेशन में उच्च शिक्षा और सैन्य परिवारों के लिए निदेशक थे।

खूंखार आतंकी संगठन अलकायदा के प्रमुख अल-जवाहिरी कि अफगानिस्तान में मौत हो गई। पाकिस्तान व अफगानिस्तान में सूत्रों के हवाले से अरब न्यूज ने जवाहिरी की मौत का दावा किया है। रिपोर्ट में बताया गया है कि जवाहिरी की मौत अस्थमा से हुई है और उसे आखिरी वक्त में इलाज नहीं मिल सका। जवाहिरी से पहले इस खूंखार आतंकी संगठन की जिम्मेदारी ओसामा बिन लादेन के कंधों पर थी। सोशल मीडिया पर भी कुछ समय से मौत की जानकारी साझा की जा रही थी। जवाहिरी आखरी बार इस वर्ष 9ध्11 की बरसी पर एक वीडियो संदेश देता दिखाई दिया था।


राष्ट्रपति चुनाव में स्पष्ट हार के बावजूद इसे कबूल करने से इनकार कर रहे डोनाल्ड ट्रम्प अब अकेले पड़ते जा रहे हैं। व्हाइट हाउस में उनके कई पूर्व सहयोगी इससे न सिर्फ नाराज हैं, बल्कि अब पाला भी बदलने लगे हैं। इनमें ज्यादातर वे अफसर या सियासी सहयोगी हैं जिन्हें ट्रम्प ने बर्खास्त किया। ये अफसर अब जो बाइडेन की ट्रांजिशन टीम (सत्ता हस्तांतरण करने वाली टीम) में शामिल होने लगे हैं। ट्रम्प को एक और झटका तब लगा जब जॉर्जिया में उनकी जिद की वजह से हुए रि-काउंट में भी उन्हें मात खानी पड़ी।

दुनियाभर में अब तक 5.78 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 4.03 करोड़ लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 13.76 लाख लोगों की जान जा चुकी है। अब 1.64 करोड़ मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है, यानी एक्टिव केस। अमेरिका में हालात किस कदर बिगड़ रहे हैं, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 24 घंटे में यहां 2 हजार 15 लोगों की मौत हो गई।

अमेरिका में सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन यानी सीडीसी ने देश के नागरिकों से अपील में कहा है कि वे थैंक्सगिविंग डे पर यात्रा करने से बचें। सीडीसी के डायरेक्टर डॉक्टर हेनरी वेक ने कहा- हम जितना ज्यादा सफर करेंगे, महमारी का खतरा उतनी ही तेजी से फैलता जाएगा और यह सबके लिए खतरनाक है। फिर भी अगर आप यात्रा करना ही चाहते हैं तो हर उस गाइडलाइन का पालन करें जो हमने जारी की हैं। हम जानते हैं कि छुट्टियों का हर कोई लुत्फ उठाना चाहता है, लेकिन कुछ खतरों को किसी भी हाल में नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। माना जा रहा है कि आज देर रात सीडीसी कुछ नई गाइडलाइन्स जारी कर सकता है।

ऑस्ट्रेलिया के डिफेंस फोर्स चीफ जनरल एंगस कैम्पबेल के खुलासे ने दुनिया को चैंका दिया है। एंगस ने वॉर क्राइम की एक रिपोर्ट जारी की है। इसमें कहा गया है कि अफगानिस्तान में तैनात उनके सैनिकों ने 39 बेकसूर नागरिकों का कत्ल किया। इस गुनाह को अंजाम देने वाले ज्यादातर ऐसे ऑस्ट्रेलियाई सैनिक थे, जो पहली बार जंग के मैदान में गए थे। इन सैनिकों ने सिर्फ प्रैक्टिस के नाम पर बेगुनाह लोगों को गोलियों से छलनी कर दिया। अफगानिस्तान में तैनात विदेशी सैनिकों पर पहले भी इस तरह के आरोप लगे हैं।

अफगानिस्तान में सलीमा मजारी तालिबान आतंकियों को अमन की राह पर लाने के लिए कोशिशें कर रही हैं। सलीमा की इन कोशिशों का ही नतीजा है कि अक्टूबर में कुल 125 तालिबानी आतंकियों ने हथियार डालकर शांति की राह पर चलने का फैसला किया। सलीमा के इस काम को मुल्क की पुलिस और दूसरे सुरक्षा बलों का भी समर्थन मिल रहा है। सलीमा ने एक इंटरव्यू में कहा- मैं अपने मुल्क में अमन लाना चाहती हूं और इसके लिए हर मुमकिन कोशिश करूंगी।