राज्य

प्रदेश एक्‍सप्रेस

Posted by Admin on







शिवराज की विधानसभा में हैरान करने वाला मामला!

सीएम शिवराज सिंह चौहान के क्षेत्र में कांग्रेस की ओर से बीजेपी को पहले ही वॉक ओवर मिल गया है। सीहोर जिले की नगर परिषद शाहगंज में बुधवार को हैरान करने वाला मामला सामने आया। नाम वापसी के आखिरी दिन कांग्रेस समेत अन्य प्रत्याशियों ने सभी 15 वार्ड से अपना नाम वापस ले लिया। इनके नामांकन वापस लेने के साथ ही भाजपा सभी 15 प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित हो गए। मंत्री भूपेंद्र सिंह के क्षेत्र में भी सागर के बरोदिया नगर परिषद में बीजेपी का कब्जा हो गया है। सागर जिले में सिंह के विधानसभा क्षेत्र स्थिति बरोदिया नगर परिषद में भाजपा के सभी उम्मीदवार हुए निर्विरोध निर्वाचित हुए। यहां सभी 15 वार्डों के निर्दलीय प्रत्याशियों ने सर्वसम्मति बना कर भाजपा के अधिकृत प्रत्याशियों के पक्ष में नामांकन फॉर्म वापस लिए ।

कमल नाथ ने दी रूठों के पांव पकड़ने तक की नसीहत

एमपी निकाय चुनाव में टिकट बंटने के बाद राजनीतिक दलों में घमासान भी देखने को मिल रहा है. ऐसे में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने नाराज कार्यकर्ताओं और नेताओं को मनाने की बात कही है. जिन कार्यकर्ताओं को टिकट मिला है उनके साथ कमलनाथ ने बैठक कर किसी भी तरह से नाराज लोगों को मनाने के निर्देश दिए हैं, इसके लिए उन्होंने रूठों के पांव पकड़ने तक की नसीहत दी है.

इंदौर में 55 लाख लीटर से ज्यादा शराब बिक चुकी

पंचायत और नगर निगम चुनाव की घोषणा के बाद इंदौर में अब तक 150 करोड़ रुपए की 55 लाख लीटर से ज्यादा शराब बिक चुकी है, जो मई महीने से 20 करोड़ रुपए ज्यादा है। मई में 130 करोड़ रुपए की 50 लाख लीटर शराब बिकी थी। जून महीना खत्म होने में अभी एक हफ्ता बाकी है, यानी इस माह की बिक्री कोई नया रिकॉर्ड भी बना सकती है।

दोपहर 3 बजे से गांव का चुनावी शोर थम जाएगा

मध्यप्रदेश में आज, यानी 23 जून की दोपहर 3 बजे से गांव का चुनावी शोर थम जाएगा। वहीं, 48 घंटे तक शराब दुकानें बंद रहेगी। भोपाल-इंदौर समेत प्रदेश की 115 जनपदों में पहले चरण में 25 जून को सुबह 7 से दोपहर 3 बजे तक वोटिंग होगी।


मध्यप्रदेश में मानसून की बारिश पर 4 दिन का ब्रेक

तूफानी एंट्री के बाद मध्यप्रदेश में मानसून की बारिश पर 4 दिन का ब्रेक लगने का अनुमान है। चारों दिन लोकल लेवल पर बनने वाले बादलों (सीबी क्लाउड) की वजह से शाम के बाद अलग-अलग शहरों में बारिश हो सकती है, लेकिन ग्वालियर-चंबल में 4 दिन बाद ही बारिश के आसार हैं। 27 जून से इंदौर, भोपाल समेत पूरे प्रदेश में लगातार चार दिन तेज बारिश होने की संभावना है।