राज्य

एम.पी.लाइव 24 3 20

Posted by khalid on



मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में दूसरे दिन प्रदेश में कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के उपायों की विस्तृत समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के संबंध में अफवाहें फैलाने और अवैज्ञानिक जानकारी फैलाने वालों के विरूद्ध कार्रवाई करें। कॉल-सेंटर में काम कर रहे अमले को लोगों को सटीक जानकारी देने के लिये निर्देश दें। उन्होंने कोरोना के फैलाव की रोकथाम के लिये लोगों में वैज्ञानिक जानकारी के प्रसार में मीडिया से भी सहयोग देने का आग्रह किया है।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जन-प्रतिनिधियों से अपील की है कि कोरोना वायरस की महामारी को समाप्त करने में अपनी पूरी क्षमता लगायें। विधानसभा परिसर में जन-प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश के सभी प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि इस संक्रामक रोग की रोकथाम के लिए सभी ऐहतियाती कदम उठाये जायें।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये जन-सहयोग की अपील का व्यापक असर हुआ है। मंत्रालय में एचईजी कंपनी भोपाल की ओर से मुख्यमंत्री को कोरोना वायरस से निपटने में आवश्यक एहतियाती उपाय करने के लिये एक करोड़ रूपये का चैक मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिये भेंट किया गया। इस अवसर पर एचईजी कंपनी की ओर से कंपनी के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री मनीष गुलाटी और श्री मानव संसाधन प्रमुख श्री के.एन. माथुर उपस्थित थे।

राज्य शासन ने प्रदेश में नोवल कोराना वायरस को संक्रामक रोग घोषित किया है। इसकी रोकथाम में सहयोग के लिये राजधानी भोपाल के भोपाल मेमोरियल हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेंटर को जनहित में राज्य-स्तरीय कोविद-19 उपचार संस्थान चिन्हाकित किया गया है। इस हॉस्पिटल में केवल कोविद-19 के मरीजों का ही उपचार किया जायेगा। प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्रीमती पल्लवी जैन गोविल ने यह आदेश जारी किया।