क्षेत्रीय

जबलपुर लाइव 22-02-21

Posted by khalid on



1
अप्रैल से 200 यूनिट के बिजली बिल में 124 रुपए और 300 यूनिट के बिल में 197 रुपए बढ़कर आ सकते हैं। वजह यह है कि एमपी पॉवर मैनेजमेंट कंपनी ने विद्युत नियामक आयोग के सामने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए घरेलू बिजली की दरें 8.32 फीसदी बढ़ाने का प्रस्ताव रखा है। कंपनी ने वार्षिक राजस्व जरूरत यानी एआरआर में 2629 करोड़ रुपए का घाटा दर्शाया है। इसकी भरपाई के लिए दरों में बढ़ोत्तरी का प्रस्ताव रखा गया है। नियामक आयोग ने सूचना सार्वजनिक करने के बाद अब 8 मार्च तक आपत्ति दर्ज कराने की डेडलाइन तय की है। जानकारों का कहना है कि नियामक आयोग आपत्तियाँ आने के बाद 9 या 10 मार्च को उन पर सुनवाई कर सकता है। संभवतरू सुनवाई भी भोपाल में आयोजित होगी। पूर्व में यह देखने में आया है कि आपत्ति पर सुनवाई भोपाल के साथ ही इंदौर और जबलपुर में भी होती थी। फिलहाल जबलपुर और इंदौर के लिए अभी तक तिथि तय नहीं हो सकी है।


2
जबलपुर महंगाई को लेकर प्रदेश व्यापी बंद को लेकर रांझी ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के प्रदर्शन के दौरान दुकान संचालक से हुई झड़प व बीजेपी के विरोध को लेकर ब्लॉक कांग्रेस कमिटी के पदाधिकारियों ने देर रात रांझी थाने पहुँचकर कार्यवाही की मांग को लेकर सीएसपी रांझी को ज्ञापन सौपा,,जहा कांग्रेस नेता गोविंद यादव,व रामदास यादव ने सीएसपी इसरार मंसूरी को ज्ञापन सौंपते हुए बताया कि बढ़ती हुई महँगाई को लेकर प्रदेशव्यापी सांकेतिक बंद को लेकर रांझी में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी जब बंद का आह्वाहन कर व्यपारियो से सहयोग मांग रही थी तभी रांझी थाने के सामने योगेश ड्रेसस के दुकान मालिक से किसी बात को लेकर कार्यकर्ताओ की झड़प हो गयी जहा मामले को शांत करा दिया गया लेकिन इस मामले को तूल देने व शांतिपूर्ण सांकेतिक बंद का माहौल बिगाडऩे के उद्देश्य से मौके पर बीजेपी के कार्यकर्ताओं द्वारा पहुँच कर नारेबाजी व अपशब्दों का प्रयोग किया गया,,वही दबाव वश पुलिस ने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर एफआईआर दर्ज करदी,, जबकि भाजपा के लोगो ने विवाद की स्थिति निर्मित की थी,,वही ब्लॉक कांग्रेस कमिटी ने जांच कर उचित कार्यवाही करते हुए बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।।।

3
जबलपुर में उचित मूल्य की राशन दुकानदार मनमाने तरीके से हितग्राहियों को राशन दे रहे हैं शासन के निर्देशों को ताक पर रखकर अधिक दाम पर हितग्राहियों को राशन दिया जा रहा है इसकी शिकायत हितग्राहियों से मिलने पर खाद्य आपूर्ति विभाग की टीम ग्वारीघाट पोली पाथर परफेक्ट पटरी उप सहकारिता भंडार केंद्र पर खाद्य विभाग के इंस्पेक्टर संजीव अग्रवाल ने कार्रवाई करते हुए हितग्राहियों से बात की कि दुकानदार द्वारा किस प्रकार से मनमाने तरीके से हितग्राही को राशन दिया जाता है हितग्राहियों की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए खाद्य विभाग इस्पेक्टर मैं उचित कार्रवाई करने का हितग्राहियों को आश्वासन दिया है खाद्य विभाग इस्पेक्टर संजीव अग्रवाल का कहना है कि राशन दुकानदार द्वारा मनमाने तरीके से अधिक मूल्य पर हितग्राहियों को राशन दिया जा रहा था जिसकी शिकायत उन्हें मिली थी जिस पर कार्यवाही करते हुए आज मौके पर जाकर हितग्राहियों से बात की गई जिस पर अधिकारियों ने बताया कि राशन दुकानदार द्वारा मनमाने तरीके से अधिक मूल्य पर राशन दिया जा रहा था जिस पर नियम अनुसार कार्रवाई राशन दुकानदार पर की जाएगी


4
अवैध कच्ची शराब तस्करी में लिप्त आरोपियों की धड़पकड़ को लेकर आबकारी विभाग की ताबड़तोड़ कार्यवाही के चलते जबलपुर बरगी में 2 शराब तस्कर आबकारी के हत्थे चढ़े,,,जहा आबकारी टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि नागपुर मंडला राजमार्ग से समद पिपरिया वाले मार्ग से सुरेश यादव वाहन में अवैध कच्ची शराब की तस्करी कर रहा है,,वही आबकारी पुलिस ने सूचना मिलते ही तत्तकाल टीम गठित कर समद पिपरिया में योजनाबद्ध तरीके से दबिश देने मौके पर टीम तैनात कर नाकाबंदी की ,,जहा सामने से आ रही मोटर साईकिल को रोक कर तलाशी लेने पर 2 प्लास्टिक की जेरीकेंन में 58 लीटर कच्ची शराब बरामद की गयी,,जहा आरोपी सुरेश यादव को आबकारी अधिनियम के तहत गिरिफ्तार करते हुए कच्ची शराब जब्त कर कार्यवाही की गई।

5
जबलपुर में देर रात एक 19 वर्षीय युवती के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है.... बताया जाता है कि 19 वर्षीय युवती का दोस्त गुलशन राजपूत उसे नर्मदा तट घुमाने के लिए ले गया था.... काफी देर तक नर्मदा के किनारे घुमाने के बाद युवती को एक सूने मकान में ले गया जहां पर पहले से ही उनका एक दोस्त सत्यम राजपूत मौजूद था... इसके बाद तीनों ने मिलकर शराब पी और जब युवती शराब के नशे में आ गई तब पहले गुलशन ने और उसके बाद सत्यम राजपूत ने उसके साथ दुष्कर्म किया.... इसके बाद दोनों आरोपियों ने युवती को उसके घर में लाकर छोड़ दिया.... शराब के नशे में चूर युवती को देख कर उसके परिजनों ने जब उससे पूछताछ की तब युवती ने अपने परिजनों को इस पूरी घटना का ब्यौरा दिया... बाद में युवती और उसके परिजनों ने गढ़ा थाना में आकर दोनों आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई... इस पर गढ़ा थाना ने तुरंत कार्यवाही करते हुए दोनों आरोपी गुलशन राजपूत और सत्यम राजपूत को गिरफ्तार कर लिया है.... घटनास्थल भेड़ाघाट थाना क्षेत्र का है इसलिए अब इस पूरे मामले को भेड़ाघाट थाना पुलिस के हवाले कर दिया गया है और इस मामले की पूरी जांच शुरू कर दी गई है.

6
जल्द ही रानी दुर्गावती विवि में प्रोकुलपति यानी की रेक्टर की भर्ती होगी, जो कुलपति की मौजूदगी या गैरमौजूदगी में भी कुलपति की भाँति विवि का कामकाज देखेंगे। कुलपति के कामकाज में उनकी हर संभव मदद करेंगे। रेक्टर पद पर भर्ती विवि के कुलपति करेंगे। ये किसी भी संकाय के विवि के डीन हो सकते हैं। उक्त निर्णय भोपाल में आयोजित समन्वय समिति की बैठक में हुआ है। इस बैठक में सभी शासकीय व गैरशासकीय विश्वविद्यालयों के कुलपति मौजूद रहे। रादुविवि के कुलपति प्रो. कपिलदेव मिश्र ने बताया कि विश्वविद्यालयों में रोस्टर का पालन करते हुए प्राध्यापकों की भर्ती करने के आदेश बैठक में जारी हुए। इसके अलावा रिसर्च को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय शिक्षा नीति के प्रतिपालन की बात कही गई है। बैठक में खिलाडिय़ों का दैनिक भत्ता जो कि अब तक 2 सौ रुपए मिलता था उसे बढ़ाकर 4 सौ कर दिया गया है। शहर के बाहर जाने पर भत्ता 5 सौ रहेगा। भत्ते में प्रतिवर्ष महँगाई के अनुसार बढ़ोत्तरी की जाएगी।


7
प्रमोशन के 15 दिन बाद ही दरोगा एक महिला के घर से पकड़ा गया। कार में वर्दी उतारकर महिला के घर पहुंचा था। लोगों ने आपत्तिजनक हालत में पकड़ा तो छत से भागने लगा लेकिन, लोगों ने उसे दबोच लिया। वह उस समय पैंट भी नहीं पहन पाया था। उसकी टोपी महिला के घर में भी छूट गई। मामला ग्वारीघाट के चैधरी मोहल्ले का है। देह व्यापार से परेशान स्थानीय लोगों ने रविवार देर रात एक महिला के घर से दो लोगों को पकड़ा। इनमें एक पनागर थाने में पदस्थ एसआई था। लोगों ने एसआई सहित दोनों को पुलिस के सुपुर्द कर दिया है। ग्वारीघाट पुलिस मामले की जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार चैधरी मोहल्ले में एक महिला दो बेटियों के साथ रहती है। मोहल्ले वालों का आरोप है कि वहां आए दिन पुलिस और अन्य लोग आते हैं। वहां शराब पीकर हंगामा करते हैं। लोगों ने महिलाओं पर देह व्यापार में लिप्त होने का भी आरोप लगाया। इससे कई दिनों से लोग परेशान थे। रविवार रात को आखिरकार उनके सब्र का पैमाना टूट गया। मोहल्ले वालों ने मिलकर खुद इस घर पर धावा बोल दिया।

8
मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने पूर्व निर्देश के बावजूद केस डायरी पेश नहीं किए जाने के मामले में सख्ती बरती है। न्यायमूर्ति जगदीश प्रसाद गुप्ता की एकलपीठ ने आदेशित किया गया है कि महाधिवक्ता या जिम्मेदार अधिकारी कोर्ट में हाजिर स्पष्टीकरण पेश करें कि केस डायरी क्यों नहीं पेश की जा रही है? इसके साथ ही एकल पीठ ने संबंधित मामले की केस डायरी तीन दिन के भीतर पेश करने का आदेश दिया है। मामले की अगली सुनवाई 24 फरवरी को निर्धारित की गई है। भोपाल निवासी राहुल मारन के खिलाफ पुलिस ने दुष्कर्म और एससीएसटी एक्ट का प्रकरण दर्ज किया है। इस मामले में क्रिमिनल अपील दायर की गई है। एकल पीठ ने आठ जनवरी, 2021 को केस डायरी पेश करने का निर्देश दिया था, लगातार तीन बार अवसर दिए जाने के बाद भी मामले की केस डायरी पेश नहीं की गई। याचिकाकर्ता की ओर से अधिवक्ता अंकित सक्सेना ने दलील दी कि बार-बार अवसर दिए जाने के बाद भी केस डायरी पेश नहीं की जा रही है।

9
जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय के कृषि महाविद्यालय जबलपुर में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग नई दिल्ली के सहयोग से कृषि विद्यार्थियों के लिए मानवाधिकार के विषय पर एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि कुलपति प्रो. पीके बिसेन रहे। अधिष्ठाता छात्र कल्याण डॉ. अमित कुमार शर्मा ने कार्यक्रम की रूपरेखा से सभी को अवगत कराया। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से अधिष्ठाता कृषि संकाय डॉ.धीरेंद्र खरे, संचालक अनुसंधान सेवाएं डॉ. पीके मिश्रा, संचालक विस्तार सेवाएं डॉ ओम गुप्ता, कुलसचिव आरएस सिसोदिया, अधिष्ठाता कृषि अभियांत्रिकी डॉ.आरके नेमा ने कार्यक्रम से जुड़े विषय पर अपने विचार रखे।

10
हाई कोर्ट ने अपने एक अंतरिम आदेश में साफ किया कि दैनिक वेतन भोगी से स्थायी हुए कर्मचारी आउटसोर्स की परिधि में नहीं आएंगे। । यही नहीं उनसे अधिक वेतन भुगतान को लेकर की जा रही वसूली पर भी रोक लगाई जाती है। न्यायमूर्ति संजय द्विवेदी की एकलपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। इस दौरान याचिकाकर्ताओं की ओर से अधिवक्ता शक्ति कुमार सोनी ने पक्ष रखा। उन्होंने दलील दी कि याचिकाकर्ता 2010 में दैनिक वेतन भोगी बतौर नियुक्त किए गए थे। 2019 में उन्हें नियमित कर दिया गया। इसके बावजूद आयुक्त लोक शिक्षण,एक आदेश के जरिये इन कर्मियों को आउटसोर्स मानते हुए सेवा से निकाले जाने की व्यवस्था दे दी। इसी रवैये के खिलाफ हाई कोर्ट आना पड़ा।

11
बिजली चोरी के मामले को रफादफा करने पांच हजार रुपए की रिश्वत ले जूनियर इंजीनियर को लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथ पकड़ा है. इंद्रा मार्केट के समीप जेसू पावर हाउस में की गई कार्यवाही से हड़कम्प मच गया था. इस संबंध में लोकायुक्त डीएसपी दिलीप झरवड़े ने बताया कि हनुमानताल थाना की प्रेमसागर चैकी के पीछे रहने वाले प्रकाशचंद्र वंशकार पर बिजली चोरी का मामला चल रहा था, इस मामले को रफादफा करने के लिए मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी पूर्व संभाग दो इंद्रा मार्के ट में पदस्थ जूनियर इंजीनियर कमलेश कसेरा उम्र 30 वर्ष ने दस हजार रुपए रिश्वत की मांग की, जिसपर प्रकाशचंद्र वंशकार के बेटे सतीष ने पहली किश्त के रुप में पांच हजार रुपए दे दिए, इसके बाद जूनियर इंजीनियर कमलेश कसेरा मामले को रफादफा करने से पहले पांच हजार रुपए और देने के लिए दबाव बना रहा था,