क्षेत्रीय

Balaghat Live| Balaghat News-03-05-21| EMS TV

Posted by Avneesh Rai on



कोरोना ने ले ली 15 दिन में हुई एक ही परिवार के 5 सदस्यों की जान

बेवजह घूमने वालों को कलेक्टर ने लगवाई उठक बैठक

अंतराष्ट्रीय मजदूर दिवस पर मनरेगा मजदूरों को दवाई मास्क किए गए वितरित दी गई सुरक्षित रहने की सलाह

1
संक्रमण काल के दूसरे दौर में कोरोना लेागो के लिए काल बनकर आया है। खैरलांजी तहसील मे एक परिवार पर कोरोना काल बनकर सामने आया ।जहां एक परखवाड़े के अंदर एक ही परिवार के 5 सदस्यो की जान चली गई। बचे परिवार के सदस्य मातम मे डूबे है। और वह अभी तक इस सदमें से उभर नही पाए है। कहीं ना कहीं कोरोना संक्रमण ने उन्हे भयभीत कर रखा है। वही दूसरी ओर प्रशासन ने अभी तक प्रोटोकाल के तहत कोरोना संक्रमण में उठाए जाने वाले सुरक्षा के लिए इंतजामों का कोई प्रबंध नही किया। यह दर्दनाक घटना खैरलांजी तहसील के ग्राम बोनकट्टा मे स्थित ग्राम गोरेघाट की है। जहां पर किरनापुरे परिवार पर कोरोना ने एैसा कहर बरपाया कि १५ दिनो के अंदर मां और बाप और दो भाई और एक भाई की पत्नि ने दम तोड़ दिया।

2
जिले में कोरोना महामारी तेजी से बढ़ रही है और कोरोना पॉजीटिव मरीजों की सं या में कमी नहीं आ रही है। कोरोना की चैन को तोडऩे के लिये जिले में 7 मई तक लॉकडाउन है इसके बावजूद लोग घरों से अनावश्यक बाहर निकल कर घूम रहे है जिनके खिलाफ जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन सख्त हो गया है। कलेक्टर दीपक आर्य, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम सोलंकी, तहसीलदार रामबाबू देवांगन, नगर पुलिस अधीक्षक सहित पुलिस के अमले ने नगर के प्रमुख चौक चौराहों पर खड़े होकर अनावश्यक घूमने वालों के खिलाफ जुर्माना कार्यवाही कर उठक बैठक लगवाई और लोगों को अनावश्यक घर से बाहर नहीं निकले व शासन की गाईडलाईन का पालन करने हिदायत दी गई।

3
अंतराष्ट्रीय मजदूर दिवस पर बालाघाट जिले के लालबर्रा विकासखंड की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत पांढरवानी लालबर्रा द्वारा मनरेगा मजदूरों को मास्क, सेनेटाइजर, फिटकरी, दवाई व किट बांटते हुए कोरोना काल में सावधानी बरतने सहित अन्य सुझाव व दिशा निर्देश दिए गए हैं। ज्ञात हो की प्रतिवर्ष १ मई को ग्राम पंचायत द्वारा मजूदर दिवस केक काटकर मनाया जाता था किंतु इस वर्ष मजदूर दिवस पर मजदूरों को कोरोना से बचने मार्गदर्शन व सामग्री वितरित की गई। इस अवसर पर ग्राम प्रधान अनीस खान, सचिव केशव महोबे, रोजगार सहायक कृष्णा पंचेस्वर सहित मनरेगा मजदूर उपस्थित थे।

4
बालाघाट जिले के लालबर्रा विकासखंड अंतर्गत स्थित ग्राम पंचायत मिरेगाव से सोमवार की सुबह 9 बजे चीतल को पकड़कर वन विभाग को सौंप दिया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार मिरेगांव से प्रवाहित होने वाली वैनगंगा नहर में 3 मई को सुबह 8 बजे जंगल से भटकर आये दो चीतलों को नहर के अंदर देखा गया द्य वहीं उपस्थित स्थानीय ग्रामीण युवाओं के द्वारा दोनों चीतल को नहर से सुरक्षित निकाल कर वन विभाग को सूचना दी गई । जिसके बाद वन विभाग की टीम के द्वारा चीतलो को अपने कब्जे में लिया गया और चीतलो का प्राथमिक उपचार कर नवेगांव के जंगल में जल स्रोत के पास छोड़ दिया गया द्य

5
बालाघाट जिले मे कोरोना आपदा काल मे महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अर्थात मनरेगा मजदूरो के लिए रोजगार का अवसर बनी हुई है। जनपद पंचायत बालाघाट की गाम पंचायत गोगलई इस योजना के अंतर्गत मजदूरो को रोजगार दे रही है। जिससे यहां के मजदूरों में काम मिलने से खुशी का माहौल है। कोरोना के चलते जनता कर्फ्यू लगा हुआ है जिसके कारण लोगों के पास काम का संकट बन गया है। काम के अभाव में लोग अपने घरों में बैठ गए हैं और उन्हें रोजगार की चिंता सता रही है। महानगरों में काम कर अपनी रोजी-रोटी चलाने वाले मजदूरों के सामने कोरोना का संकट परेशानी का सबब बन गया है। ऐसे में ग्राम पंचायत गोगलई मनरेगा योजना के अंतर्गत नाला निर्माण का कार्य कर रही है। ग्राम पंचायत गोंगलई के प्रधान बताया कि उनकी पंचायत में मनरेगा के अंतर्गत 8 से साढ़े 8 लाख रुपए की लागत से नाला निर्माण का कार्य कराया जा रहा है।

6
सिकंदरा नदीटोला में सरपंच सचिव द्वारा नल जल योजना का लाभ बंद कर दिया गया ह कोरोना के चलते आये दिन गांव में झगड़े होते है और साथ ही गांव के हेडपम सभी खराब है दो से तीन हेडपम चालू है जिसमे ५० ५० लोग एक साथ खड़े रह कर अपने घर मे पानी के लिए लाइन लगते है और सरपंच सचिव द्वारा कोई ध्यान नही दिया जा रहा ह मेरा शासन प्रशासन से निवेदन है कि इस समस्या को जल्द से जल्द खत्म कराये वरना कोरोना बहुत तेजी से गांव में हो सकता है और आगे की समस्या और बहुत विकराल रूप ले सकती है इस समस्या को ध्यान दे

7
2 मई को प्राप्त रिपोर्ट में बालाघाट जिले के 67 मरीजों के सेंपल कोरोना पाजेटिव पाए गए हैं। इस प्रकार जिले में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 776 हो गई है। 2 मई को 187 कोरोना पाजेटिव मरीजों के ठीक हो जाने पर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। राहत की बात है कि अब बड़ी संख्या में कोरोना पाजेटिव मरीज ठीक हो रहे है और कोरोना संक्रमित नये मरीजों की संख्या कम हो रही है।

8
इन दिनों सोशल मीडिया में जिस तरह की खबरे वायरल हो रही है या आडियो वायरल किए जा रहे है उसको लेकर समाज का प्रबुद्ध वर्ग चिंतित नजर आ रहा है। जहां एक ओर बढ़ते संक्रमण को लेकर प्रशासन के अधिकारियो की नींदे उड़ी हुई है आमजन भयभीत है। ईलाज को लेकर लोग परेशान है। बढ़ते संक्रमण और हो रही मौतो से लोग सहमे हुए है। एैसे समय में बालाघाट में सोशल मीडिया मे जो कुछ चल रहा है उसे जरा भी गंभीरता से नही लिया जा रहा है बल्कि एैसे वायरलो को लोग हल्के में ले रहे है साथ ही अपने को बुद्धिमान समझने वाले तबके के समझ पर चिंतित है। यहां के सोशल मीडिया में कभी कलेक्टर की तबादले की खबर वायरल हो जाती है कभी प्रदेश के मुख्यमंत्री के बदले जाने की खबर चल पड़ती है और वही कुछ एैसे आडियो वायरल हो रहे है। जिनको लेकर समाज के एक वर्ग मे चिंता दिखाई दे रही है।